For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

आपकी राय

08:00 AM Dec 23, 2023 IST
आपकी राय
Advertisement

सजग-सतर्क रहें

इक्कीस दिसंबर के दैनिक ट्रिब्यून का संपादकीय ‘फिर वायरस की दस्तक’ कोविड-19 के बदले हुए स्वरूप द्वारा भारत के 15 राज्यों में दस्तक देने का वर्णन करने वाला था। वैसे केंद्र सरकार ने इस महामारी से बचने और मुकाबला करने के लिए राज्यों को परामर्श जारी कर दिए हैं। इसके अलावा हमें साफ-सफाई का ध्यान रखना चाहिए। भीड़भाड़ से बचना चाहिए, घर से मास्क लगाकर निकलना चाहिए। सरकार को चाहिए कि अस्पतालों में इस महामारी का मुकाबला करने के लिए पर्याप्त सुविधाओं के साथ तैयार रहे।
शामलाल कौशल, रोहतक


कड़ा दंड मिले

संपादकीय ‘ज़हर घोलती डिस्टिलरियां’ में उल्लेख है कि हिमाचल प्रदेश में डिस्टिलरियों के मालिकों द्वारा अपशिष्ट नदी-नालों में बहा दिया जाता है, जिससे पानी, मिट्टी और वायु में प्रदूषण फैल रहा है। हि.प्र. या पंजाब के साथ अन्य प्रदेशों में भी यही स्थिति है। भारी कमाई इन्हें नियमों का उल्लंघन करने को ललचाती है। अभी तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं हो पाई है। बेहतर हो कठोर कानून बनाया जाए।
बीएल शर्मा, तराना, उज्जैन

Advertisement


सावधानी ही उपचार

एक बार फिर देश में कोरोना महामारी की दस्तक हो चुकी है। इस नए वेरियंट के कारण केरल में कुछ लोगों की मृत्यु की खबर है। इस महामारी से निपटने के लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकारों को अलर्ट रहना होगा, हर संभव सावधानी बरतनी होगी। समय रहते अस्पतालों में विशेष इंतजाम करने होंगे। मेट्रो एवं भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में विशेष सावधानी बरतने की जरूरत है।
वीरेंद्र कुमार जाटव, दिल्ली


ज्ञानवर्धक लेख

सत्रह दिसंबर के दैनिक ट्रिब्यून के अंक में आलोक पुराणिक का ‘जीवंत विरासत के दीदार साहित्य के झरोखे से’ लेख नवीन ऐतिहासिक जानकारी का विश्लेषण करने वाला था। बेरोजगार युवाओं के लिए यह शैक्षणिक ज्ञान भविष्य की ऐतिहासिक धरोहर के रूप में नए आयाम स्थापित करेगा।
अनिल कौशिक, क्योड़क, कैथल

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
×