For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

आपकी राय

08:09 AM Nov 01, 2023 IST
आपकी राय
Advertisement

वास्तविक हकदार

संपादकीय ‘बढ़ोतरी के हकदार’ में उल्लेख है कि हरियाणा सरकार ने दीपावली से पूर्व सफाई कर्मियों के वेतन,भत्तों आदि में बढ़ोतरी की है, जिसके वे वास्तविक हकदार भी थे। उल्लेखनीय है कि राज्य के सभी कर्मियों तथा जनप्रतिनिधियों का वेतनमान सरकार पूर्व में बढ़ा चुकी थी, जिससे सफाई कर्मी वंचित थे। वेतन आदि में वृद्धि से सफाई कर्मियों को संबल मिलेगा, जिससे स्वच्छता मिशन को भी गति मिलेगी और इसका लोगों के स्वास्थ्य पर अनुकूल प्रभाव होगा अर्थात‍् बीमारियों पर नियंत्रण हो सकेगा।
बीएल शर्मा, तराना, उज्जैन


पुख्ता इंतजाम जरूरी

अभी देश बालासोर रेल दुर्घटना से उबरा भी नहीं है कि आंध्र प्रदेश के विजयनगरम जिले में तीन ट्रेनें टकरा गईं, जिसमें करीब दस यात्रियों की मौत हो गई। सवाल ये है कि अभी तक ट्रैक पर सुरक्षा कवच नहीं लग पाए जिसकी घोषणा बहुत पहले हो गई थी। अभी देश को स्पीड के साथ-साथ सुरक्षा वाली गाडि़यां भी चाहिए। सतर्कता कैसे बरतें, इसकी रेलवे कर्मियों को ट्रेनिंग की बहुत जरूरत है। वहीं वंदे भारत ट्रेन पर कितनी ही जगह पथराव किए गए इसीलिए ट्रैक पर सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम जरूरी है। जान माल की सुरक्षा जरूरी है। नई तकनीकियों की जानकारियों से युक्त रेलवे कर्मचारियों के साथ ही आधुनिक उपकरणों का इस्तेमाल ऐसी दुर्घटनाएं रोकने में मददगार होगा।
भगवानदास छारिया, इंदौर

Advertisement


जरूरी है चौकसी

‘खुशी के साथ जरूरी भी है चौकसी’ लेख दिवाली-दशहरा आदि त्योहारों पर हादसों के प्रति सचेत करने वाला था। अक्सर बच्चों द्वारा छुड़ाए गए बम पटाखे, फुलझड़ियां, आतिशबाजी के फटने से दुखद घटनाएं हो जाती हैं। वहीं बच्चे तीरकमान, तलवार, गदा आदि खिलौने अस्त्र-शस्त्रों से रामलीला के पात्रों की भूमिका निभाने के प्रयास में चोट का शिकार हो जाते हैं। स्कूलों में अध्यापकों और घर में अभिभावकों का कर्तव्य बनता है कि वे अपने बच्चों को इन हादसों के प्रति सावधानी का पाठ पढ़ाएं।
अनिल कौशिक, क्योड़क, कैथल

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×