For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

होली की मस्ती जैसे कलर फेस्टिवल

08:26 AM Mar 22, 2024 IST
होली की मस्ती जैसे कलर फेस्टिवल
Advertisement

राजकुमार ‘दिनकर’
वैसे तो दुनिया में होली जैसे उत्सवों की संख्या करीब दो दर्जन से भी ज्यादा है, लेकिन धरती के एक छोर से दूसरे छोर तक पांच ऐसे बड़े और लोकप्रिय कलर फेस्टिवल मनाये जाते हैं, जो बिल्कुल होली जैसे हैं। आइये इन पर एक नजर डालते हैं कि भारत के बाहर भी ऐसे ये कौन से त्योहार हैं, जिन्हें हम होली के नजदीक पाते हैं।

होली जैसा मेलन फेस्टिवल

ऑस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड में यह बिल्कुल होली जैसा मस्तीभरा त्योहार खूब धूमधाम से मनाया जाता है। इसीलिए क्वींसलैंड को ऑस्ट्रेलिया की मेलन कैपिटल भी कहा जाता है। इस त्योहार में स्ट्रीट परेड होती है, जिसमें लोग एक-दूसरे पर मेलन यानी तरबूज का गूदा निकालकर मस्ती मंे फेंकते हैं। लोग तरबूज के जूस को भी निकालकर इसे बोतलों में भर लेते हैं और जैसे होली में एक दूसरे पर रंग डालते हैं, वैसे ही यह जूस डाला जाता है। कई युवा मिलकर एक समूह बनाते हैं और तरबूज के गूदे के ढेर के ऊपर डांस करते हैं और खूब मस्ती करते हैं या कुछ युवा एक घेरा बना लेते हैं और उसके बीच में बारी बारी से अलग अलग युवा अपना डांस परफोर्म दिखाते हैं।

Advertisement

मड फेस्टिवल दक्षिण कोरिया

ऑस्ट्रेलिया के मेलन फेस्टिवल जैसा दक्षिण कोरिया के बोरिओंग शहर में विशेष तौर पर पूरी दुनिया में प्रसिद्ध मड फेस्टिवल मनाया जाता है। गौरतलब है कि एक जमाने में मिनरल्स से भरी बोरियाओंग की मिट्टी को कॉस्मेटिक के रूप में इस्तेमाल करने को बढ़ावा देने के लिए इस फेस्टिवल का आयोजन शुरू हुआ था। लेकिन आज यह दो हफ्ताें तक चलने वाला मड फेस्टिवल न सिर्फ दक्षिण कोरियाई युवाओं का पसंदीदा और मस्तीभरा त्योहार है बल्कि इसमें हिस्सा लेने के लिए पूरी दुनिया से युवा पहुंचते हैं। इस फेस्टिवल में भी खूब नाच, गाना, मस्ती और एक दूसरे पर गीली मिट्टी को लेपना, फेंकना जैसी हरकतें होती हैं, ठीक वैसी ही जैसी हरकतें होली में होती है।

स्पेन का हैरोविन फेस्टिवल

स्पेन का हैरोविन फेस्टिवल भी बिल्कुल होली जैसा है, इसमें युवा आपस में ‘वाइन बैटल’ से लेकर बुल फाइट्स तक करते हैं और यह फेस्टिवल हर साल 29 जून को पेट्रन सेंट, सेन पैड्रो के दिन मनाया जाता है। इसकी शुरुआत वाइन बैटल से होती है जिसमें किसी पर तब तक शराब डाली जाती, जब तक कि वह पूरी तरह से नहा न जाए और उसके कपड़े इस शराब के असर से पर्पल रंग के न हो जाएं। इस त्योहार में भी लोग एक-दूसरे पर वैसे ही शराब डालते हैं जैसे भारत में होली के मौके पर लोग एक-दूसरे पर पिचकारियों से रंग डालते हैं।

Advertisement

थाईलैंड का सोंगकरन फेस्टिवल

यह भी बिल्कुल होली की तरह वाटर फेस्टिवल है और इसकी शुरुआत आमतौर पर 13 से 15 अप्रैल के बीच में होती है। थाईलैंड में इस फेस्टिवल के साथ ही थाई न्यू ईयर की शुरुआत हो जाती है। इस फेस्टिवल में भी आमतौर पर युवा खूब मस्ती करते हैं, वे एक दूसरे पर होली के जैसा ही रंगीन पानी फेंकते हैं, डांस करते हैं। इस मस्ती भरे माहौल में युवा अपने जोड़े चुनते हैं और नई जिंदगी की शुरुआत के लिए मिलकर मस्तीभरा वाटर फेस्टिवल मनाते हैं।

इटली का संतरा फेस्टिवल

उत्तरी इटली के इवेरिया शहर में मनाया जाने वाला ऑरेंज फेस्टिवल भी हिंदुस्तान के होली जैसा ही फेस्टिवल होता है। इसे फूड फाइट भी कहते हैं। इस फेस्टिवल में मस्ती करने के लिए युवा अपने आपको दो अलग-अलग टोलियों में बांट लेते हैं और फिर एक-दूसरे पर खूब जमकर साबुत संतरों और संतरों के गूदों आदि से हमला करते हैं। इस फेस्टिवल के दौरान युवा खूब खाते पीते और मस्ती करते हैं और जैसा कि ऐसे दूसरे त्योहारों मंे होता है, यहां भी युवा अपने लिए जोड़े ढूंढ़ते हैं। -इमेज रिफ्लेक्शन सेंटर

Advertisement
Advertisement
Advertisement
×