For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

आपकी राय

06:06 AM Jan 26, 2024 IST
आपकी राय
Advertisement

हृदयस्पर्शी कथानक

इक्कीस जनवरी के दैनिक ट्रिब्यून अध्ययन कक्ष अंक में प्रकाश मनु की ‘राख में छिपे आखर’ कहानी दिल की गहराइयों को छू गई। कहानी शिक्षाप्रद व प्रेरणादायक रही। सरस्वती बाबू को साहित्यिक सम्मान मिलना माता-पिता के गौरव में वृद्धि करता है। माता के अथक मेहनती प्रयास व काका गंगा की स्नेहिल शिक्षा के कारण ही बाबू ने साहित्यिक ऊंचाइयों को छूआ। मां का त्याग, समर्पण के करुण रस संचारण से कहानी का अंतः पक्ष अत्यंत प्रभावशाली रहा है।

अनिल कौशिक, क्योड़क, कैथल

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
×