For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

बजरंग, साक्षी और विनेश के खिलाफ जुटे पहलवान

07:54 AM Jan 04, 2024 IST
बजरंग  साक्षी और विनेश के खिलाफ जुटे पहलवान
नयी दिल्ली में बुधवार को प्रदर्शन करते पहलवान। - प्रेट्र
Advertisement

नयी दिल्ली, 3 जनवरी (एजेंसी)
भारतीय कुश्ती में जारी संकट में बुधवार को नया मोड़ आया जब सैकड़ों जूनियर पहलवान अपने करिअर में एक महत्वपूर्ण साल बर्बाद होने के खिलाफ जंतर-मंतर पर जमा हुए। उन्होंने इसके लिये शीर्ष पहलवानों बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक और विनेश फोगाट को दोषी ठहराया।
भारी ठंड के बीच जूनियर पहलवान जंतर मंतर पहुंचे और तीन घंटे बाद यह चेतावनी देकर निकल गए कि अगर सरकार ने डब्ल्यूएफआई पर लगा प्रतिबंध दस दिन के भीतर नहीं हटाया तो वे अपने पुरस्कार वापस देने लगेंगे। प्रदर्शनकारी पहलवानों में से कइयों के पास आखिरी बार जूनियर स्तर पर खेलने का मौका था। अर्जुन पुरस्कार प्राप्त और 2023 एशियाई खेलों के कांस्य पदक विजेता ग्रीको रोमन पहलवान सुनील राणा ने कहा, ‘हमारी नहीं सुनी गयी तो अवार्ड लौटा देंगे।’

संजय सिंह के बिना डब्ल्यूएफआई स्वीकार्य : साक्षी मलिक


ओलंपिक पदक विजेता साक्षी मलिक ने कहा कि नये भारतीय कुश्ती महासंघ से उन्हें कोई एतराज नहीं है अगर बृजभूषण शरण सिंह के विश्वस्त संजय सिंह को इससे अलग रखा जाता है। साक्षी ने दावा किया कि उनकी मां को धमकीभरे फोन आ रहे हैं।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
×