For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

केजरीवाल की अर्जी पर तत्काल सुनवाई नहीं

10:28 AM Mar 24, 2024 IST
केजरीवाल की अर्जी पर तत्काल सुनवाई नहीं
नयी दिल्ली में शहीदी पार्क में विरोध प्रदर्शन करते पंजाब के सीएम भगवंत मान एवं अन्य। - मुकेश अग्रवाल
Advertisement

नयी दिल्ली, 23 मार्च (एजेंसी)
आबकारी नीति मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा गिरफ्तार किए गये दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को हाईकोर्ट का रुख किया, लेकिन उन्हें राहत नहीं मिली। दिल्ली हाईकोर्ट ने उनकी अर्जी पर तत्काल सुनवाई करने से इनकार कर दिया। होली की छुट्टियों के बाद बुधवार को याचिका पर सुनवाई हो सकती है। दिल्ली हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार जनरल ने इसकी
पुष्टि की।
शुक्रवार को विशेष अदालत ने केजरीवाल को 28 मार्च तक के लिए ईडी की हिरासत में भेज दिया था। हाईकोर्ट में केजरीवाल ने अपनी गिरफ्तारी व रिमांड को अवैध बताते हुए तुरंत रिहाई की मांग की है। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश से 24 मार्च रविवार को तत्काल सुनवाई का आग्रह किया गया था।
कविता की हिरासत बढ़ी, भतीजे पर भी आरोप : तेलंगाना के पूर्व सीएम के. चंद्रशेखर राव की बेटी के. कविता की ईडी हिरासत 26 मार्च तक बढ़ा दी गयी। ईडी ने कहा कि कविता का एक भतीजा भी गैर-कानूनी रकम को इधर-उधर करने में शामिल है।

...तो जेल से चलेगी सरकार : भगवंत मान

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान ने कहा कि आम आदमी पार्टी में अरविंद केजरीवाल की जगह कोई नहीं ले सकता। एक प्रश्न के जवाब में मान ने कहा, ‘ऐसा कहीं नहीं लिखा है कि सरकार जेल से नहीं चलाई जा सकती।... कानून कहता है कि वह दोषी पाए जाने तक जेल से काम कर सकते हैं। हम जेल में कार्यालय बनाने के लिए सुप्रीम कोर्ट, हाईकोर्ट से अनुमति मांगेंगे और सरकार काम करेगी।’
पार्टी दफ्तर सील करने का आरोप : आप नेता आतिशी ने दावा किया कि दिल्ली में पार्टी का कार्यालय सभी ओर से सील कर दिया गया है। दिल्ली के मंत्री सौरभ भारद्वाज ने भी कहा कि केंद्र ने आप कार्यालय के सभी प्रवेश द्वार बंद कर दिए हैं। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग को पुलिस अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी चाहिए।

Advertisement

गिरफ्तारी टिप्पणी पर जर्मनी का राजनयिक तलब

भारत ने शनिवार को जर्मन दूतावास के उप प्रमुख को तलब किया और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी पर जर्मनी के विदेश मंत्रालय की टिप्पणी के खिलाफ कड़ा विरोध दर्ज कराया। विदेश मंत्रालय ने कहा कि जर्मन दूत जॉर्ज एनजवीलर को बताया गया कि जर्मन विदेश मंत्रालय की टिप्पणी भारत की न्यायिक प्रक्रिया में हस्तक्षेप है।

पत्नी ने पढ़ा संदेश- ऐसी सलाखें नहीं जो ज्यादा दिन अंदर रख सकें

Advertisement

अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल ने शनिवार को ईडी की हिरासत से भेजा गया उनका संदेश पढ़ा। इसमें केजरीवाल ने कहा है कि उन्हें ज्यादा दिन तक जेल में नहीं रखा जा सकता और लोगों से किये अपने वादे पूरे करने वह जल्द बाहर आएंगे। केजरीवाल का पत्र पढ़ते हुए उनकी पत्नी ने कहा, ‘अंदर रहूं या बाहर रहूं, मेरी जिंदगी का हर क्षण देश की सेवा को समर्पित है। मेरे खून का एक-एक कतरा देश को समर्पित है।... ऐसी सलाखें नहीं जो आपके भाई, बेटे को ज्यादा दिन अंदर रख सकें।’ उन्होंने कहा कि उनका जन्म संघर्षों के लिए हुआ है और वह भविष्य में भी बड़ी चुनौतियों के लिए तैयार हैं। केजरीवाल ने यह भी कहा कि भारत को दुनिया का सबसे मजबूत और महान देश बनाना है। कई आंतरिक और बाहरी ताकतें हैं जो देश को कमजोर करने का प्रयास कर रही हैं। मुख्यमंत्री ने महिला लाभार्थियों को हर महीने 1,000 रुपये देने के अपने वादे को वापस आने पर पूरा करने का आश्वासन भी दिया। उन्होंने महिलाओं से मंदिरों में जाने और उनके लिए आशीर्वाद मांगने की भी अपील की।

केजरीवाल की पत्नी भी अब सीएम रेस में : अनुराग

नयी दिल्ली (एजेंसी) : केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कटाक्ष किया कि आप नेता अब मुख्यमंत्री बनने के लिए एक-दूसरे से प्रतिस्पर्धा कर रहे हैं और केजरीवाल की पत्नी भी अब इस दौड़ में शामिल हो गई हैं। ठाकुर ने संगरूर में शराब से मौतों पर पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान पर भी निशाना साधा और कहा कि पूरी आप किसी न किसी शराब घोटाले में डूब गई है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
×