For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

आढ़तियों ने की इंस्पेक्टर की बर्खास्तगी की मांग

10:50 AM May 01, 2024 IST
आढ़तियों ने की इंस्पेक्टर की बर्खास्तगी की मांग
करनाल में मंगलवार को प्रधान रजनीश चौधरी के साथ रोष जताते आढ़ती। -हप्र
Advertisement

करनाल, 30 अप्रैल (हप्र)
गेहूं कटाई का सीजन पीक पर चल रहा है, वहीं नयी अनाज मंडी करनाल में वेयरहाउस इंस्पेक्टर द्वारा गेहूं खरीद को अचानक बंद दिया, जिसके चलते किसानों
सहित आढ़तियों में भारी रोष व्याप्त हो रहा हैं।
आढ़तियों ने सरकार से मांग की है कि वेयरहाउस के इंस्पेक्टर ने मनमाने तरीके से गेहूं खरीद कार्य बंद करके किसानों को परेशानी में डाल दिया है, ऐसे इंसपेक्टर को बर्खास्त किया जाए। इंस्पेक्टर जानबूझ कर किसानों को परेशान कर सरकार को बदनाम करने की कोशिश कर रहा है।
पंचायत नयी अनाजमंडी आढ़ती एसोसिएशन प्रधान रजनीश चौधरी ने बताया कि सरकार हर साल 15 मई तक गेहूं की खरीद करती है, लेकिन करनाल मंडी में तैनात वेयरहाउस के इंस्पेक्टर ने मंगलवार को अचानक खरीद बंद करने का ऐलान कर दिया है। वहीं, सैकड़ों एकड़ गेहूं की लेट वैरायटी फसल अभी खेतों में ही खड़ी है।
उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि इंस्पेक्टर ने गेहूं खरीद कार्य बंद करने को लेकर तर्क दिया कि न तो हमारे पास खाली बारदाना है और न ही हमारे पास गेहूं रखने की जगह है। जबकि वेयरहाउस के पास करीब चार लाख कट्टों का गोदाम है, अभी तक मात्र पचास हजार क्विंटल गेहूं ही खरीदी गयी है।
मंडी प्रधान ने कहा कि सरकार ने गेहूं खरीद शुरू होने से पहले अपने सभी पुख्ता इंतजाम होने की बात कही थी, जबकि सरकार के पास कोई इंतजाम नहीं है।
करनाल से दो-दो मुख्यमंत्री विधानसभा और लोकसभा का चुनाव लड़ने जा रहे हैं। वे अपने चुनावी जलसों में लगातार किसानों का एक-एक दाना खरीदने की बात करते हैं और लगातार किसानों को खुश करने की कोशिश कर रहे हैं।
ऐसा लगता है कि वेयरहाउस के इंस्पेक्टर जानबूझकर किसानों को तंग करके सरकार को बदनाम करना चाहते हैं। उन्होंने सरकार से मांग है कि ऐसे अधिकारी को तुरंत प्रभाव से बर्खास्त किया जाए और गेहूं की खरीद को 15 मई तक चलाया जाए।
वेयरहाउस इंस्पेक्टर बोले
वेयरहाउस के इंस्पेक्टर ने बताया कि मंडी में गेहूं खरीद कार्य बंद नहीं किया है। उनकी एजेंसी का मंगलवार को गेहूं खरीद का दिन नहीं है। वे शेड्यूल अनुसार ही खरीद कार्य करेंगे। उन्होंने कहा कि उनके पास बारदाने और गोदाम में गेहूं रखने के लिए कुछ स्पेस की दिक्कत हैं। इसे देखते हुए शेड्यूल अनुसार ही गेहूं की खरीद की जाएगी।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×