For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

उम्मीदवार ने अंतिम दिन नाम वापस लेकर थामा कमल

07:04 AM Apr 30, 2024 IST
उम्मीदवार ने अंतिम दिन नाम वापस लेकर थामा कमल
इंदौर में सोमवार को भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय के साथ अक्षय कांति बम। -एएनआई
Advertisement

इंदौर, 29 अप्रैल (एजेंसी)
पिछले 35 साल से इंदौर लोकसभा सीट पर जीत की बाट जोह रही कांग्रेस के उम्मीदवार अक्षय कांति बम ने पार्टी को तगड़ा झटका देते हुए सोमवार को नामांकन वापसी के आखिरी दिन अपना पर्चा वापस ले लिया। उन्होंने भाजपा का दामन थाम लिया है।
बम सोमवार को स्थानीय भाजपा विधायक रमेश मेंदोला के साथ जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे और अपना पर्चा वापस लिया। लौटते वक्त वह पत्रकारों के सवालों को अनसुना करते हुए मेंदोला के साथ गाड़ी में बैठकर रवाना हो गए।
इस बीच, प्रदेश के कैबिनेट मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने ‘एक्स’ पर तस्वीर पोस्ट की, जिसमें बम और मेंदोला उनके साथ कार में बैठे नजर आ रहे हैं। विजयवर्गीय ने तस्वीर के साथ लिखा, ‘इंदौर से कांग्रेस के लोकसभा प्रत्याशी अक्षय कांति बम का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, मुख्यमंत्री मोहन यादव और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के नेतृत्व में भाजपा में स्वागत है।’ इसके बाद बम भाजपा के स्थानीय कार्यालय पहुंचे। भाजपा सूत्रों ने बताया कि वह जल्द ही औपचारिक रूप से पार्टी की सदस्यता लेंगे।
इस बीच, इंदौर कांग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष देवेंद्र यादव ने पार्टी संगठन पर नाराजगी जताते हुए कहा, ‘मैंने खुद इंदौर से चुनाव लड़ने के लिए टिकट मांगा था, लेकिन मेरी और मेरे जैसे कांग्रेस के कई जमीनी कार्यकर्ताओं की अनदेखी करके बम की धन की ताकत देखकर उन्हें टिकट दिया गया।’
बम (45) पेशे से कारोबारी हैं और उनका परिवार शहर में निजी महाविद्यालयों का संचालन करता है। इंदौर सीट पर मुख्य मुकाबला भाजपा के निवर्तमान सांसद शंकर लालवानी और बम के बीच माना जा रहा था। हालांकि, बम ने आज तक एक भी चुनाव नहीं लड़ा है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×