For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

युवाओं के आदर्श थे, स्वामी विवेकानंद : डॉ. सैनी

06:51 AM Jan 13, 2024 IST
युवाओं के आदर्श थे  स्वामी विवेकानंद   डॉ  सैनी
डीएवी कॉलेज में शुक्रवार को स्वामी विवेकानंद जयंती मनाते हुए। -हप्र
Advertisement

करनाल, 12 जनवरी (हप्र)
डीएवी पीजी कॉलेज में स्वामी विवेकानंद जयंती तथा राष्ट्रीय युवा दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में स्वामी विवेकानंद की तस्वीर के समक्ष पुष्प अर्पित कर उनको नमन करते हुए स्वामी विवेकानंद युवा क्लब के संरक्षक एवं प्राचार्य डॉ रामपाल सैनी ने कहा कि आज स्वामी विवेकानंद जयंती है। जिसे समूचा देश राष्ट्रीय युवा दिवस के तौर पर मनाता है। विवेकानंद ने युवाओं को लक्ष्य प्राप्ति के लिए मूलमंत्र दिया था कि उठो, जागो और तब तक मत रुको जब तक लक्ष्य प्राप्त न हो जाए। वे युवाओं को राष्ट्रनिर्माण का प्रमुख ध्वजवाहक मानते थे। दरअसल युवा ही किसी देश के वर्तमान और भूतकाल के सेतु होते हैं जिनके साकारात्मक ऊर्जा से बदलाव संभव हो पाता है। इनके जन्म दिवस को हर वर्ष युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है। डॉ. आर पी सैनी ने कहा कि स्वामी विवेकानंद को अल्पायु में ही अपनी बौद्धिक क्षमताओं से पुरे विश्व को आश्चर्यचकित कर दिया था। उन्होंने कहा कि आज की युवा पीढ़ी को उन्हें आदर्श के रूप में अपने व्यवहार और चरित्र में स्थापित करना होगा। तभी देश के युवाओं को सही दिशा मिलेगी। प्राचार्य ने विद्यार्थियों को स्वामी विवेकानंद के जीवन से जुड़ी अनेक अद्भुत घटनाओं के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी। कार्यक्रम में डॉ लवनीश बुद्धिराजा, डॉ जितेन्द्र चौहान, डॉ विजय कुमार, प्रो सुगम गुप्ता,हैड क्लर्क हरि सिंह सहित सभी स्टाफ सदस्य मौजूद थे।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×