For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

सुक्खू का जंगलों में आग की घटनाओं पर तत्काल अंकुश लगाने के आदेश

07:37 AM Jun 04, 2024 IST
सुक्खू का जंगलों में आग की घटनाओं पर तत्काल अंकुश लगाने के आदेश
सोमवार को हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू विभाग के अधिकारियों के साथ मीटिंग करते हुए। -ट्रिन्यू
Advertisement

शिमला, 3 जून (हप्र)
मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने वनों में आग लगने की घटनाओं पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए वन विभाग के अधिकारियों को आग की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए तत्काल सख्त कदम उठाने के साथ-साथ दीर्घकालिक उपाय करने के निर्देश दिए। उन्होंने इन प्रयासों में जन भागीदारी सुनिश्चित करने पर बल देते हुए कहा कि लोगों के सहयोग से वनों में आग लगने की घटनाओं में धीरे-धीरे कमी आ रही है। सुक्खू आज शिमला में वनों को आग से बचाने के उपायों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस वर्ष अब तक वनों में 1318 आग की घटनाएं दर्ज की गई हैं। इन घटनाओं से 2789 हेक्टेयर हरित क्षेत्र सहित 12718 हेक्टेयर भूमि प्रभावित हुई है जिससे 4.61 करोड़ रुपये का प्रारंभिक वित्तीय नुकसान आंका गया है। उन्होंने कहा कि वनों में आग लगने की घटनाओं को नियंत्रित करने और इससे होने वाले नुकसान को कम करने के लिए राज्य सरकार अग्निशमन के लिए विशेष रूप से प्रशिक्षित एनडीआरएफ की एक समर्पित बटालियन गठित करने पर विचार कर रही है। उन्होंने कहा कि 374 वन बीट आग लगने की घटनाओं के लिए अत्यधिक संवेदनशील हैं तथा इन क्षेत्रों में अग्निशमन सेवाओं का सुदृढ़ीकरण किया जाना चाहिए।
सुखविंदर सिंह सुक्खू ने वनों में विशिष्ट प्रजातियों के पौधों के साथ-साथ शंकुधारी पौधों के क्षेत्रों में विविध प्रजाती के पौधे लगानेे पर बल दिया ताकि इनसे वनों में नमी बनी रहे और आग की घटनाओं में कमी लाई जा सके। उन्होंने वन विभाग को आग की घटनाओं के कारणों की जांच करने और आवश्यक कार्यवाही की सिफारिश करने के लिए सरकारी एजेंसी से अध्ययन करवाने के निर्देश भी दिए।

शिमला के पास रविवार रात को जंगल में लगी भीषण आग का दृश्य। -प्रेट्र

कुलदीप राठौर ने भी जंगलों की आग पर जतायी चिंता
कुलदीप सिंह राठौर ने आजकल गर्मी के दिनों में जंगलों में लग रही आग की घटनाओं पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि वन विभाग के अधिकारियों को इस पर कावू पाने के लिये कड़े पग उठाते हुए इसे पर काबू पाने के लिए कड़े कदम उठाने चाहिए। उन्होंने कहा कि इस आगजनी से एक ओर जहां प्राकृतिक संपदा को भारी नुकसान पहुंच रहा है वही पर्यावरण को भी भारी नुकसान हो रहा है। राठौर ने इस संदर्भ में आज मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू से फोन पर बात कर अपनी इस चिंता से उन्हें अवगत कराया। उन्होंने कहा कि जिन बागवानों के बाग इस आगजनी से नष्ट हो गए हैं या जिनके घर आग की इस चपेट में आये हैं उन्हें उचित मुआवजा दिया जाना चाहिए। राठौर ने कहा कि जिन इलाकों में पेयजल समस्या हो रही है उन जगहों पर टैंकरों से पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित की जानी चाहिए।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
×