For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

शिल्पा और कुंद्रा का एक बंगला, फ्लैट व 98 करोड़ के शेयर कुर्क

06:51 AM Apr 19, 2024 IST
शिल्पा और कुंद्रा का एक बंगला  फ्लैट व 98 करोड़ के शेयर कुर्क
Advertisement

नयी दिल्ली, 18 अप्रैल (एजेंसी)
प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसने कथित पोंजी योजना से जुड़े धन शोधन की जांच के सिलसिले में अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी और उनके पति राज कुंद्रा के करीब 98 करोड़ रुपये के शेयरों के अलावा एक बंगले और एक फ्लैट को कुर्क किया है।
यह मामला बिटकॉइन जैसी क्रिप्टो करेंसी के इस्तेमाल के जरिए निवेशक निधि में धोखाधड़ी से  जुड़ा है।
संघीय एजेंसी ने एक बयान में बताया कि कुर्क संपत्ति में अभी शेट्टी के नाम पर जुहू (मुंबई) में एक रिहायशी फ्लैट और कुंद्रा के नाम पर पुणे में एक रिहायशी बंगला तथा इक्विटी शेयर शामिल हैं। दंपति के एक वकील ने बताया कि उनके मुवक्किलों के खिलाफ प्रथम दृष्टया कोई मामला नहीं बनता है और वे प्राधिकारियों के साथ सहयोग करेंगे। धन शोधन का यह मामला वैरिएबल टेक प्राइवेट लिमिटेड नामक कंपनी, दिवंगत अमित भारद्वाज, अजय भारद्वाज, विवेक भारद्वाज, सिम्पी भारद्वाज, महेंद्र भारद्वाज और कई एजेंट के खिलाफ महाराष्ट्र पुलिस और दिल्ली पुलिस की प्राथमिकियों से निकला है। आरोप है कि इन लोगों ने बिटकॉइन के रूप में प्रति माह 10 प्रतिशत रिटर्न के झूठे वादे के साथ भोली-भाली जनता से बिटकॉइन (2017 में 6,600 करोड़ रुपये मूल्य) के रूप में भारी मात्रा में धनराशि एकत्र की थी।
ईडी ने दावा किया कि कुंद्रा ने यूक्रेन में एक बिटकॉइन माइनिंग फार्म लगाने के लिए गेन बिटकॉइन पोंजी के मास्टरमाइंड और प्रोमोटर अमित भारद्वाज से 285 बिटकॉइन प्राप्त किए। उसने कहा कि ये बिटकॉइन भोले-भाले निवेशकों से अमित भारद्वाज द्वारा एकत्रित की गयी ‘अपराध की आय’ से प्राप्त किए गए थे।

कुंद्रा के पास अब भी 150 करोड़ के बिटकाॅइन

ईडी ने दावा किया, ‘चूंकि बिटकॉइन का सौदा पूरा नहीं हो पाया तो कुंद्रा के पास अब भी 285 बिटकॉइन हैं जिनकी कीमत अभी 150 करोड़ रुपये से अधिक है।’ शेट्टी और कुंद्रा के वकील प्रशांत पाटिल ने एक बयान में कहा, ‘हमारा निष्पक्ष जांच में भरोसा है।’ ईडी ने पिछले साल इस मामले में सिम्पी भारद्वाज, नितिन गौड़ और निखिल महाजन को गिरफ्तार किया था। वे अभी न्यायिक हिरासत में जेल में हैं। ईडी ने बताया कि मुख्य आरोपी अजय भारद्वाज और महेंद्र भारद्वाज फरार हैं। उसने पहले भी 69 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की थी। अभी तक दो आरोपपत्र दाखिल  किए गए हैं।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
×