For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

पतंजलि मेलानोग्रिट दवा पर हुआ शोध बायोसाइंस रिपोर्ट्स में प्रकाशित

07:05 AM Feb 07, 2024 IST
पतंजलि मेलानोग्रिट दवा पर हुआ शोध बायोसाइंस रिपोर्ट्स में प्रकाशित
Advertisement

हरिद्वार, 6 फरवरी (ट्रिन्यू)
पतंजलि मेलानोग्रिट दवा का अनुसंधान दुनिया के प्रतिष्ठित रिसर्च जर्नल बायोसाइंस रिपोर्ट्स के कवर पेज पर प्रकाशित हुआ है। यह रिसर्च जर्नल सौ साल से भी अधिक समय से स्थापित बायोकेमिकल सोसायटी, यूके के अंतर्गत आता है, जो जैव विज्ञान तकनीकों को आगे बढ़ाने और सरकारी नीतियों से लेकर अकादमिक व्यवस्थाओं को बढ़ावा देने में वैश्विक सकारात्मक भूमिका निभाती है।
पतंजलि योगपीठ के आचार्य बालकृष्ण ने बताया कि आयुर्वेद में त्वचा के सफेद दाग के लिए पहली बार इतना गहन अनुसंधान हुआ है। इसका श्रेय पतंजलि अनुसंधान संस्थान के वैज्ञानिकों को जाता है। इस अध्ययन में मेलानोग्रिट की चिकित्सकीय क्षमता का आकलन किया गया और पाया कि यह दवा त्वचा में सफेद दागों के फैलाव को बेअसर करती है। साथ ही त्वचा में मेलेनिन बनाने वाली कोशिकाओं में मेलेनिन की सतत वृद्धि करती है।
आचार्य बालकृष्ण ने यह भी कहा कि जिस रोग का सही उपचार दुनिया की दूसरी चिकित्सा पद्धतियों में असंभव है, वह आयुर्वेद में संभव है। जहां पतंजलि पहले से ही श्वेत कुष्ठ रोग से पीड़ित हजारों रोगियों की चिकित्सा सालों से करता आ रहा है, वहीं अब वैज्ञानिक रूप से भी उसके सेल्यूलर वैलिडेशन को यूके और पूरी दुनिया ने स्वीकार कर लिया है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×