For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

बारिश किसानों के सपनों पर पानी

08:08 AM Mar 31, 2024 IST
बारिश किसानों के सपनों पर पानी
जालंधर के एक गांव में शनिवार को तेज हवाओं और बारिश से क्षतिग्रस्त फसल काे निहारता एक किसान। -प्रेट्र
Advertisement

चंडीगढ़, 30 मार्च (एजेंसी)
पंजाब और हिमाचल के कई हिस्सों में शनिवार को हुई बारिश ने गेहूं उत्पादकों की चिंता बढ़ा दी है। बेमौसम बारिश से उनकी खड़ी फसल को काफी नुकसान हुआ है। हिमाचल में ऊंची चोटियों पर हिमपात का भी समाचार है। इस दौरान राज्य के कई जिलों में अंधड़ ने तबाही भी मचाई। अंधड़ से जगह-जगह पेड़ गिर गये और कई घरों की छतें उड़ गईं।
पंजाब के बठिंडा, फाजिल्का, लुधियाना, पटियाला, अमृतसर और पठानकोट समेत कई हिस्सों में तेज हवाओं के साथ बारिश हुई और कुछ स्थानों पर ओलावृष्टि हुई। बारिश उस समय हुई जब गेहूं की फसल कटाई के लिए तैयार है। पंजाब और हरियाणा में गेहूं खरीद का मौसम एक अप्रैल से शुरू हो रहा है। कई किसानों ने अफसोस जताया कि बारिश और अंधड़ के कारण उनकी फसलें चौपट हो गईं, जिससे फसल की पैदावार प्रभावित होगी। वहीं, किसानों का कहना है कि बारिश ने उनके सारे सपनों पर पानी फेर दिया है।

हिमपात से मार्ग रुके, कई जगह नुकसान

शिमला (हप्र) : मौसम विभाग के ऑरेंज अलर्ट के बीच हिमाचल प्रदेश में बीते 24 घंटों के दौरान झमाझम वर्षा हुई और ऊंची चोटियों पर हिमपात भी हुआ जिससे तापमान में जोरदार गिरावट आई है। इस दौरान राज्य के कई जिलों में अंधड़ ने तबाही भी मचाई। राज्य के ऊंचे व जनजातीय क्षेत्रों में ताजा बर्फबारी हुई है। बीती रात अंधड़ से जगह-जगह पेड़ गिर और कई घरों की छतें उड़ गईं। लाहौल-स्पीति में बर्फबारी के कारण मनाली-केलांग-दारचा सड़क पर यातायात अवरुद्ध हो गया। अटल टनल रोहतांग में भी बर्फबारी हुई। आनी से कुल्लू आ रही निगम की एक बस जलोड़ी दर्रा में फंस गई। सवारियों को पैदल ही दर्रा लांघ तक सोझा तक पैदल आना पड़ा। नाहन में भी बीती रात तेज बारिश व तूफान से काफी नुकसान हुआ है। पुलिस कॉलोनी में एक विशालकाय पेड़ तूफान के कारण गिर गया और नीचे खड़ी पुलिस कर्मियों की करीब आठ गाड़ियां दब गईं।
अभी और बरसेंगे बादल मौसम विभाग के मुताबिक, अगले 3 से 4 दिन पंजाब में बादल छाए रहेंगे और बारिश की भी संभावना रहेगी। जबकि हिमाचल में 31 मार्च को बारिश और बर्फबारी की संभावना है। पहली व 2 अप्रैल को प्रदेश में मौसम साफ रहने के आसार हैं। 3 से 5 अप्रैल तक प्रदेश में फिर बारिश-बर्फबारी होगी।

Advertisement

मालवा क्षेत्र में गेहूं, सरसों पर पड़ी मार

संगरूर (निस) : पंजाब के मालवा क्षेत्र में तेज आंधी, तेज बारिश और ओलावृष्टि से गेहूं और सरसों की फसल को भारी नुकसान होने का अंदेशा जताया जा रहा है। इससे सैकड़ों एकड़ फसल प्रभावित हुई है। तूफान के साथ हुई बारिश और ओलावृष्टि से संगरूर, मालेरकोटला, धूरी, लहरगागा, खनौरी, मानसा, बुडलाढा, भीखी और अन्य इलाकों में गेहूं की फसल को नुकसान हुआ है। जानकारी के अनुसार शुक्रवार की देर शाम आसमान में बादल छाने के बाद तेज हवाएं शुरू हो गई और शनिवार की सुबह करीब तीन बजे तेज आंधी के साथ बारिश और ओलावृष्टि शुरू हो गई। उल्लेखनीय है कि फसल पकने को तैयार थी। एक अप्रैल से गेहूं की कटाई शुरू होने वाली है लेकिन बारिश ने किसानों की फसलों को नुकसान पहुंचाया है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×