For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

अयोध्या की तरह गुजरात में भी भाजपा को हराएगी कांग्रेस : राहुल गांधी

03:16 PM Jul 06, 2024 IST
अयोध्या की तरह गुजरात में भी भाजपा को हराएगी कांग्रेस   राहुल गांधी
Advertisement

अहमदाबाद, छह जुलाई (भाषा)

Rahul Gandhi in Gujarat: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने शनिवार को यहां कहा कि उनकी पार्टी आगामी चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को उसी तरह हराएगी, जैसे उसने हालिया लोकसभा चुनाव में अयोध्या में उसे हराया। लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष गांधी ने अहमदाबाद में पार्टी कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को संबोधित करते हुए यह टिप्पणी की।

Advertisement

गांधी ने कहा, ‘‘उन्होंने (भाजपा ने) हमें धमकाकर और हमारे कार्यालय को नुकसान पहुंचाकर हमें चुनौती दी है। मैं आपको बताना चाहता हूं कि हम सब मिलकर उनकी सरकार को उसी तरह तोड़ देंगे जैसे उन्होंने हमारे कार्यालय को नुकसान पहुंचाया है। यह लिखकर ले लीजिए कि कांग्रेस गुजरात में चुनाव लड़ेगी और नरेंद्र मोदी एवं भाजपा को गुजरात में हराएगी, जैसा हमने अयोध्या में किया था।''


उन्होंने कहा कि कांग्रेस गुजरात में जीतेगी और इस राज्य से वह एक नयी शुरुआत करेगी। अहमदाबाद के पालडी इलाके में कांग्रेस के प्रदेश मुख्यालय राजीव गांधी भवन के बाहर दो जुलाई को कांग्रेस और भाजपा के सदस्यों के बीच उस समय झड़प हो गई थी, जब भाजपा की युवा शाखा के सदस्य हिंदुओं के बारे में गांधी की टिप्पणी का विरोध करने के लिए वहां पहुंचे थे।

Advertisement

राहुल गांधी ने इसी घटना का जिक्र करते हुए यह बात की। पुलिस के अनुसार, दोनों पक्षों में पथराव हुआ जिसमें एक सहायक पुलिस आयुक्त सहित पांच पुलिसकर्मी घायल हो गए।

पूर्व कांग्रेस प्रमुख गांधी ने अपने भाषण में उत्तर प्रदेश की फैजाबाद लोकसभा सीट से भाजपा की हार को लेकर भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। इस लोकसभा क्षेत्र में अयोध्या शहर भी आता है।

गांधी ने कहा, ‘‘अयोध्या के लोगों को गुस्सा तब आया जब उन्हें पता चला कि राम मंदिर के उद्घाटन के लिए एक भी स्थानीय व्यक्ति को आमंत्रित नहीं किया गया।''

उन्होंने दावा किया कि प्रधानमंत्री मोदी अयोध्या से चुनाव लड़ना चाहते थे, लेकिन उनके सर्वेक्षकों ने उन्हें ऐसा न करने की सलाह देते हुए कहा कि वह हार जाएंगे और उनका राजनीतिक करियर खत्म हो जाएगा।

कांग्रेस के गिरफ्तार कार्यकर्ताओं को हवालात से जेल भेजा गया, राहुल गांधी मिलने वाले थे

गुजरात के अहमदाबाद में झड़प मामले में गिरफ्तार किए गए कांग्रेस के पांच कार्यकर्ताओं को पार्टी नेता राहुल गांधी के एक दिवसीय दौरे पर यहां पहुंचने से कुछ घंटे पहले न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

गांधी को यहां वासणा थाने में पार्टी के इन कार्यकर्ताओं से मिलना था, जहां वे बंद थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें पुलिस रिमांड की समाप्ति पर सुबह मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट बी जी राठौड़ की अदालत में पेश किया।

वासणा पुलिस थाने के निरीक्षक राहुल पटेल ने बताया कि पांचों को साबरमती केंद्रीय कारा में स्थानांतरित कर दिया गया है। कांग्रेस विधायक इमरान खेड़ावाला ने कहा कि पुलिस ने पार्टी के पांचों कार्यकर्ताओं को सुबह अदालत में पेश किया, हालांकि उनकी रिमांड शाम चार बजे समाप्त होनी थी।

खेड़ावाला ने कहा कि पार्टी के कानूनी प्रकोष्ठ ने साबरमती केंद्रीय जेल से संपर्क किया और गांधी की इन पांच कार्यकर्ताओं से मुलाकात की अनुमति मांगी, लेकिन इतने कम समय में इस पर मंजूरी की संभावना नहीं है।

खेड़ावाला ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘भले ही राहुल गांधी जेल में बंद पार्टी कार्यकर्ताओं से नहीं मिल पाएं, लेकिन वह निश्चित रूप से उनके परिवार के सदस्यों से मिलेंगे।'' पांचों कार्यकर्ताओं को दो जुलाई को पालदी इलाके में प्रदेश कांग्रेस के मुख्यालय राजीव गांधी भवन के बाहर कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच झड़प के बाद गिरफ्तार किया गया था।

यह झड़प सत्तारूढ़ पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा लोकसभा में राहुल गांधी की हिंदुओं के बारे में टिप्पणी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान हुई थी। पुलिस के अनुसार, दोनों पक्षों में पथराव हुआ, जिसमें एक सहायक पुलिस आयुक्त सहित पांच पुलिसकर्मी घायल हो गए।

झड़प के एक दिन बाद तीन जुलाई को एलिसब्रिज पुलिस ने दो प्राथमिकी दर्ज की और कांग्रेस के पांच कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया, जो फिलहाल रिमांड पर हैं।

एक प्राथमिकी पुलिस ने कांग्रेस और भाजपा दोनों से जुड़े लगभग 450 कार्यकर्ताओं के खिलाफ दर्ज की, जबकि दूसरी प्राथमिकी भाजपा की अहमदाबाद इकाई की युवा शाखा की शिकायत पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं के खिलाफ दर्ज की गई।

कांग्रेस पदाधिकारियों के अनुसार, अपने अहमदाबाद दौरे के दौरान गांधी राजकोट गेमिंग जोन अग्निकांड, वडोदरा नाव पलटने और मोरबी पुल टूटने की घटनाओं के पीड़ितों के परिजनों से मिलेंगे।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Advertisement
×