For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

आपदा से निपटने के लिये जन सहयोग जरूरी : बंडारू दत्तात्रेय

09:07 AM Jan 08, 2024 IST
आपदा से निपटने के लिये जन सहयोग जरूरी   बंडारू दत्तात्रेय
करनाल में रविवार को राज्यपाल को सम्मानित करते विधायक हरविंद्र कल्याण। -हप्र
Advertisement

करनाल/घरौंडा, 7 जनवरी (हप्र/निस)
हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने कहा है कि किसी भी आपदा से निपटने के लिये केवल सरकारी प्रयास ही काफी नहीं हैं, इसके लिये जन भागीदारी भी जरूरी है। उन्होंने प्रदेश व राष्ट्र की प्रगति के लिये हर क्षेत्र में महिलाओं की भाीेदारी बढ़ाने पर भी जोर दिया।
राज्यपाल रविवार को घरौंडा हलका के गांव लालुपुरा में विकसित भारत संकल्प यात्रा के पहुंचने पर आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। उन्होंने विधायक हरविंद्र कल्याण के साथ विभिन्न विभागों की ओर से आयोजित स्टाल्स का अवलोकन किया तथा बुजुर्गों से बातचीत की। सरपंच ओमबीर व गांव के मौजिज लोगों की ओर से राज्यपाल का पगड़ी पहनाकर व शॉल ओढ़ाकर स्वागत किया गया। इस मौके पर हरियाणा और केंद्र सरकार की उपलब्धियों पर बनी लघु फिल्म भी दिखाई गई। इससे पहले मुख्यमंत्री मनोहर लाल का लाइव उद्बोधन सुनाया गया। राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने कहा कि सरकार का प्रयास है कि समाज के अंतिम व्यक्ति तक योजनाओं का लाभ पहुंचे। राज्यपाल ने कहा कि प्रदेश में करीब 40 हजार स्वयं सहायता समूह है। हर समूह में कम से कम दस महिला सदस्य हैं जो प्रतिभा के दम पर अच्छे उत्पाद तैयार करती हैं। इन स्वयं सहायता समूहों को सरकार 50 हजार से 3 लाख रुपये तक का ऋण उपलब्ध करा रही है। बाद में उन्होंने विधायक हरविंद्र कल्याण के साथ यमुना के तटबंधों का दौरा किया। कार्यक्रम के बाद राज्यपाल कुटेल स्थित लिबर्टी शू लि. पहुंचे और फैक्टरी के संचालन संबंधी जानकारी ली। इस मौके पर कंपनी के एमडी शम्मी बंसल ने राज्यपाल का स्वागत किया।

‘यमुना बेल्ट में कई विकास कार्य’

विधायक हरविंद्र कल्याण ने राज्यपाल का यमुना बेल्ट के इस गांव पहुंचने पर स्वागत किया। विधायक कल्याण के कहा कि भाजपा राज से पहले यमुना बेल्ट के करीब 40 गांव विकास की दृष्टि से पूरी तरह उपेक्षित थे। लेकिन 2014 के बाद इनमें विकास हुआ है। कुटेल में नई मेडिकल यूनिवर्सिटी और 17 सौ करोड़ की लागत से बनने वाले रिंग रोड का निर्माण जारी है। नली पार में लड़कियों की आईटीआई मंजूर की गई है।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
×