For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

अब सुनाम में जहरीली शराब ने छीनीं 5 जिंदगियां

07:03 AM Mar 23, 2024 IST
अब सुनाम में जहरीली शराब ने छीनीं 5 जिंदगियां
Advertisement

गुरतेज प्यासा/निस
संगरूर, 22 मार्च
संगरूर जिले के गुजरां गांव में जहरीली शराब से हुई मौतों का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि सुनाम में भी जहरीली शराब से पांच लोगों की मौत हो गई। सात की हालत गंभीर है। एसएमओ संजय कामरा ने बताया कि इलाज के लिए अस्पताल लाये गये मरीजों में से दो की पहले ही मौत हो चुकी थी। उन्होंने बताया कि यहां पहुंचे मरीजों में से 7 को संगरूर और 4 गंभीर मरीजों को पटियाला रेफर कर दिया गया। रेफर किये गये मरीजों में से एक की मौत हो गयी है। मृतकों की पहचान रविदासपुरा टिब्बी निवासी गुरुमीत सिंह (45), लच्छा सिंह (40), बुध सिंह (70), सेवक (40) और सखी नाथ (65) के तौर पर हुई है। सुनाम के डीएसपी मनदीप सिंह ने बताया कि कथित जहरीली शराब बेचने वाले व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। इस संबंध में सुनाम के सिविल अस्पताल के डॉ. चमनदीप सिंह का कहना है कि शुक्रवार शाम तक पांच लोगों के शवों का पोस्टमार्टम हुआ। हालांकि कुछ लोगों का कहना है कि मरने वालों की संख्या 6 है।
इस मामले की सूचना मिलते ही डीएसपी अपनी टीमों के साथ टिब्बी रविदास पुरा बस्ती पहुंचे। जांच के दौरान कुछ बोतलें बरामद हुई हैं। बताया जा रहा है कि इन बोतलों का ब्रांड गुजरां से प्राप्त शराब से मिलता-जुलता है। इस बीच, मृतक के वारिसों ने नकली शराब का कारोबार करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

गुजरां में मरने वालों की संख्या नौ हुई

गुजरां गांव में जहरीली शराब मामले में एक और व्यक्ति की मौत हो गई िजसकी पहचान जरनैल सिंह के तौर पर हुई। इस तरह अब तक नौ लोगों की मौत हो चुकी है। जहरीली शराब पीने से तबीयत बिगड़ने पर अब भी 10 लोगों का इलाज संगरूर और पटियाला के अस्पतालों में चल रहा है। संगरूर के एसएसपी सरताज सिंह ने बताया कि इस शराब कांड के प्रमुख सरगना बताए जा रहे हरमनप्रीत सिंह ने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया कि उसे शराब बनाने का आइडिया यूट्यूब से आया था। वह कच्चा माल दिल्ली से लेकर आता था और घर में ही नकली शराब तैयार करता था।

Advertisement

पंजाब सरकार को मानवाधिकार आयोग का नोटिस

शराब कांड में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने पंजाब सरकार को नोटिस जारी किया है। आयोग ने चार सप्ताह के भीतर रिपोर्ट मांगी है। आयोग ने मामले में मीडिया रिपोर्ट के आधार पर संज्ञान लिया है। इस बीच, भाजपा नेता परणीत कौर ने कहा कि शराब नीति के सरगना केजरीवाल की गिरफ्तारी का विरोध करने पंजाब के सीएम दिल्ली चले गए, लेकिन मारे गए लोगों के घर जाने के लिए उनके पास वक्त नहीं है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×