For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

चौथे चरण में 64% से ज्यादा मतदान

06:38 AM May 14, 2024 IST
चौथे चरण में 64  से ज्यादा मतदान
तेलंगाना के नागरकुर्नूल जिले के रायलेटी पेंटा क्षेत्र में झोंपड़े में बनाए गये मतदान केंद्र पर सोमवार को वोट डालने पहुंचीं चेंचू आदिवासी महिलाएं। -प्रेट्र
Advertisement

नयी दिल्ली, 13 मई (एजेंसी)
आंध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल में हिंसा की घटनाओं और उत्तर प्रदेश के कुछ गांवों में बहिष्कार की खबरों के बीच लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में एक केंद्र शासित प्रदेश सहित 10 राज्यों की 96 लोकसभा सीटों पर सोमवार को 64 फीसदी से ज्यादा मतदान दर्ज किया गया।
चुनाव आयोग के मुताबिक, 64.05 फीसदी मतदान हुआ। पश्चिम बंगाल में सबसे अधिक (76.56 प्रतिशत) वोटिंग हुई। जम्मू-कश्मीर में सबसे कम (37.93 प्रतिशत) वोट पड़े लेकिन आयोग के अनुसार यह मतदान घाटी में दशकों में सर्वाधिक है। धारा 370 हटाये जाने के बाद यह घाटी में पहला लोकसभा चुनाव है।
उधर, आंध्र प्रदेश में, तेलुगु देशम पार्टी (तेदेपा) और वाईएसआरसीपी ने एक-दूसरे पर हिंसा और आचार संहिता उल्लंघन के आरोप लगाये। राज्य की 175 विधानसभा और 25 लोकसभा सीट के लिए एक साथ मतदान हुआ। वाईएसआरसीपी ने आरोप लगाया कि तेदेपा नेताओं ने कई मतदान केंद्रों पर कब्जा कर लिया। पुलिस के अनुसार, एक गांव में एक ईवीएम नष्ट कर दी गयी, सत्तारूढ़ पार्टी और तेदेपा के कार्यकर्ताओं की कारें भी क्षतिग्रस्त हुईं। इस बीच, तेदेपा प्रमुख चंद्रबाबू नायडू ने आरोप लगाया कि राज्य में लोगों के लिए अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने के लिए कोई शांतिपूर्ण माहौल नहीं है।
उधर, पश्चिम बंगाल में टीएमसी और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच झड़पें हुईं। बर्धमान-दुर्गापुर से भाजपा उम्मीदवार दिलीप घोष के काफिले पर दो जगह पत्थर फेंके गए। सूत्रों ने दावा किया कि टीएमसी कार्यकर्ताओं ने घोष के साथ अभद्रता भी की। चुनाव आयोग के अनुसार, उसे विभिन्न राजनीतिक दलों से एक हजार से अधिक शिकायतें प्राप्त हुईं, जिनमें ईवीएम में खराबी और कार्यकर्ताओं को बूथ में प्रवेश करने से रोकने का आरोप लगाया गया है।
उत्तर प्रदेश में सड़कों और विकास कार्यों के अभाव को लेकर विरोध दर्ज कराते हुए शाहजहांपुर के कुछ गांवों में लोगों ने मतदान का बहिष्कार किया।
जम्मू-कश्मीर की श्रीनगर लोकसभा सीट पर मतदान शांतिपूर्ण रहा, जहां अब्दुल्ला परिवार की तीन पीढ़ियों ने वोट डाला।
तेलंगाना की सभी 17 लोकसभा सीटों, आंध्र प्रदेश की 25, उत्तर प्रदेश की 13, बिहार की 5, झारखंड की 4, मध्य प्रदेश की 8, महाराष्ट्र की 11, ओडिशा की 4, पश्चिम बंगाल की 8 और जम्मू-कश्मीर की एक सीट पर मतदान हुआ। इसके साथ ही लोकसभा की 543 लोकसभा सीटों में से 379 पर मतदान संपन्न हो गया है। चुनाव के पहले तीन चरणों में मतदान प्रतिशत क्रमशः 66.14, 66.71 और 65.68 रहा था।
राज्य वोटिंग प्रतिशत
पश्चिम बंगाल 76.56
जम्मू-कश्मीर 37.93
आंध्र प्रदेश 68.20
बिहार 56.75
झारखंड 64.59
मध्य प्रदेश 71.72
महाराष्ट्र 57.58
ओडिशा 64.81
तेलंगाना 62.28
उत्तर प्रदेश 58.05

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×