For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

मोदी जन्म से ओबीसी नहीं : राहुल

07:40 AM Feb 09, 2024 IST
मोदी जन्म से ओबीसी नहीं   राहुल
Advertisement

झारसुगुडा, 8 फरवरी (एजेंसी)
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बृहस्पतिवार को दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जन्म अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) से ताल्लुक रखने वाले परिवार में नहीं हुआ और वह खुद को ओबीसी बताकर लोगों को ‘गुमराह’ कर रहे हैं। राहुल ने ओडिशा में ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ के तीसरे एवं अंतिम दिन यहां एक संक्षिप्त भाषण में कहा कि मोदी ‘का जन्म ऐसे परिवार में हुआ जो सामान्य जाति की श्रेणी में आता है।’
कांग्रेस नेता ने कहा,‘मोदी जी लोगों को यह कह कर गुमराह करते आ रहे हैं कि वह अन्य पिछड़ा वर्ग से हैं। वास्तव में उनका जन्म ‘घांची’ जाति के परिवार में हुआ था, जिसे 2000 में गुजरात में भारतीय जनता पार्टी सरकार के कार्यकाल के दौरान ओबीसी सूची में शामिल किया गया। इस प्रकार से मोदी जी जन्म से ओबीसी नहीं हैं।’ कांग्रेस सांसद ने जोर दिया, ‘उन्होंने गुजरात का मुख्यमंत्री बनने के बाद अपनी जाति बदलकर ओबीसी कर ली। इसलिए मोदी जी जन्म से ओबीसी नहीं हैं।’ इससे पहले राहुल ने अपने संबोधन में कहा था कि मोदी ‘तेली’ जाति से हैं, लेकिन बाद में उन्होंने स्पष्ट किया कि उनका मतलब ‘घांची’ जाति था।
पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने यहां पुराने बस अड्डे से यात्रा शुरू की और एक खुली जीप में किसान चौक की ओर बढ़े। उनके साथ पार्टी नेता अजय कुमार और शरत पटनायक भी थे। ओडिशा में करीब 200 किलोमीटर की दूरी तय करने के बाद ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ पड़ोसी राज्य छत्तीसगढ़ में प्रवेश कर गई।

भाजपा नेताओं ने बताया झूठ, माफी की मांग

नयी दिल्ली : भाजपा के नेताओं ने राहुल गांधी के दावे को झूठ करार दिया कि नरेन्द्र मोदी का जन्म ओबीसी से ताल्लुक रखने वाले परिवार में नहीं हुआ था। पार्टी नेताओं ने राहुल गांधी के दावे को झूठ साबित करने के लिए सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर सबूत भी पेश किए और ओबीसी समुदाय का अपमान करने के लिए उनसे माफी की मांग की। केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, ‘हर बार की तरह, राहुल गांधी का एक और झूठ उजागर हो गया। या तो राहुल गांधी सच में नासमझ हैं या फिर उन्हें लगता है कि बार-बार झूठ बोलने से झूठ को ही सच मान लिया जाता है।’ गुजरात से राज्यसभा के सदस्य नरहरि अमीन ने दावा किया, ‘मैं कांग्रेस सरकार में गुजरात के उपमुख्यमंत्री के रूप में कार्य कर रहा था तब गुजरात सरकार ने 25 जुलाई, 1994 को मोढ-घांची को ओबीसी के रूप में अधिसूचित किया था। यह वही जाति है जिससे हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ताल्लुक रखते हैं।’

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
×