For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

मोदी सरकार ने सरकारी विभागों को अडानी-अम्बानी के पास गिरवी रख दिया : डाॅ. गांधी

08:14 AM May 13, 2024 IST
मोदी सरकार ने सरकारी विभागों को अडानी अम्बानी के पास गिरवी रख दिया   डाॅ  गांधी
राजपुरा में डाॅ. धर्मवीर गांधी का सम्मान करते जलालपुर के पूर्व विधायक मदन लाल, गुरप्रीत संधू, फकीर चंद बंसल, लखविंदर भिंडर व अन्य। -निस
Advertisement

राजपुरा, 12 मई (निस)
पटियाला लोकसभा सीट से कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार डाॅ. धर्मवीर गांधी के समर्थन में पार्षद गुरप्रीत संधू की अगुवाई में भोगलां रोड पर मीटिंग का आयोजन किया गया जिसमें डाॅ. गांधी के अलावा घनौर के पूर्व विधायक मदन लाल जलालपुर, पूर्व चेयरमैन पंजाब फकीर चंद बंसल सहित अन्य कांग्रेसी नेताओं के अलावा सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने शिरकत कर डाॅ. गांधी को भारी मतों से जिताने का भरोसा दिलाया। इस मौके पर डाॅ. गांधी को सिरोपा डालकर सम्मानित भी किया गया।
इस मौके पर डाॅ. गांधी ने लोगों को सम्बोधित करते हुये कहा कि कांग्रेस पार्टी की जब देश में आज़ादी के बाद सरकार आयी तो जहां सुई तक नहीं बनती थी। पार्टी ने देश को तरक्की व विकास की राह पर ले जाकर खड़ा कर दिया जिसके बाद देश में जहाज़, राकेट आदि बनने शुरू हो गये। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने देश में लोगों के लिये रोज़गार के प्रबंध किये पर मोदी सरकार ने सरकारी विभागों को अडानी-अम्बानी के पास गिरवी रख दिया। देश जो एक गुलदस्ते की तरह चल रहा था जिसमें हर धर्म के लोग मिलजुल कर रहते थे, मोदी ने धर्म के नाम पर सबको बांट कर रख दिया। महंगाई को कम करने की बात करने वाली मोदी सरकार के राज में मंहगाई सारे रिकार्ड तोड़ रही है।
इस मौके पर पूर्व विधायक जलालपुर ने आम आदमी पार्टी सरकार पर बरसते हुये कहा कि जो गुंडागर्दी व लूट-खसूट अब पंजाब में हो रही है, आज तक 70 वर्षों में नहीं हुई। उन्होंने कहा कि 4 जून के बाद आम आदमी पार्टी की पंजाब की सरकार अपने वज़न से समाप्त हो जायेगी। इस मौके पर गुरप्रीत सिंह संधू ने भी देश में कांग्रेस की सरकार बनाने और राहुल गांधी को प्रधानमंत्री पद पर बिठाने के लिये डाॅ. धर्मवीर गांधी को भारी मतों से जिताने की अपील की।
इस मौके पर वरिष्ठ कांग्रेसी नेता लखविंदर सिंह भिंडर, पूर्व पार्षद बीबी जितेंदर कौर वड़ैच, अच्छर सिंह सरपंच, लालू नरडू, हरदेव सिंह सरपंच, बूटा सिंह अली माजरा, गुरमीत सिंह, परनाम सिंह सरपंच सहित अन्य कांग्रेसी नेता मौजूद थे।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×