For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

भीषण विस्फोट के बाद धंसी खदान, 12 खनिकों की मौत

07:43 AM Mar 21, 2024 IST
भीषण विस्फोट के बाद धंसी खदान  12 खनिकों की मौत
Advertisement

कराची, 20 मार्च (एजेंसी)
पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में घातक गैस विस्फोट के बाद एक कोयला खदान धंस गई और इस हादसे में कम से कम 12 खनिकों की मौत हो गई। आठ खनिकों को बचा लिया गया। पाकिस्तान के डॉन अखबार में प्रकाशित खबर के मुताबिक, यह घटना हरनाई जिले के जरदालो इलाके में हुई। बलूचिस्तान के मुख्य खदान निरीक्षक अब्दुल गनी बलौच के हवाले से खबर में कहा गया है कि जरदालो इलाके में रात में जब मीथेन गैस से विस्फोट हुआ और उस दौरान 20 खनिक खदान में मौजूद थे।
इस दौरान बचाव दल ने 12 शव बरामद किए हैं जबकि आठ खनिकों को सुरक्षित बाहर निकाल कर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बलौच ने कहा कि रात में दो शव बरामद किए गए थे जबकि सुबह दस और शव निकाले गए। डॉन की खबर के मुताबिक, प्रांत के खनन महानिदेशक अबदुल्ला शाहवानी ने भी इस हादसे के मृतकों की संख्या की पुष्टि की। पाकिस्तान में खदान दुर्घटनाएं आम है। यह मुख्य रूप से गैस के कारण होती है। वहीं, खदान श्रमिकों ने बार-बार यह शिकायत की है कि कोयला खदानों में सुरक्षा के अभाव और खराब कामकाजी परिस्थितियों के कारण लगातार ऐसी दुर्घटनाएं होती हैं। बलूचिस्तान के डुकी कोयला क्षेत्र में पिछले साल दिसंबर में एक निजी खदान में आग लग गई थी, जिसमें दो कोयला खनिकों की मौत हो गई थी। वहीं, सिंध के जमशोरो में सितंबर में एक कोयला खदान के धंस गयी थी। डुकी और शारग कोयला क्षेत्रों में दो कोयला खदान दुर्घटनाएं हुई। हरनाई जिले में साल 2022 में कोयला खदान में विस्फोट होने से छह खनिकों की मौत हो गई थी।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×