For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

आज कोई हल न निकला तो उठायेंगी सख्त कदम

06:02 AM Apr 04, 2024 IST
आज कोई हल न निकला तो उठायेंगी सख्त कदम
Advertisement

संगरूर, 3 अप्रैल (निस)
पिछले एक महीने से मुख्यमंत्री आवास से करीब डेढ़ किलोमीटर दूर राष्ट्रीय राजमार्ग के पास मोबाइल टावर पर चढ़ी पंजाब पुलिस भर्ती अभ्यर्थी हरदीप कौर अबोहर ने चेतावनी दी है कि वह सिर्फ बृहस्पतिवार तक इंतजार करेंगी। अगर कोई सुनवाई नहीं हुई तो वह टावर पर सख्त कार्रवाई करने को मजबूर होंगी, जिसकी जिम्मेदारी पंजाब सरकार और जिला प्रशासन की होगी। इस चेतावनी के बाद जिला प्रशासन हरकत में आ गया है। मौके पर फायर ब्रिगेड की एक गाड़ी तैनात कर दी गई है। दोपहर बाद प्रशासन की ओर से ड्यूटी मजिस्ट्रेट सुरिंदर पाल सिंह पन्नू मोबाइल टावर के पास पहुंचे, जहां उन्होंने स्पीकर के माध्यम से घोषणा की कि चुनाव संहिता लागू है, जिस कारण यह संघर्ष अवैध है और इस बारे में कुछ नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि प्रशासन को यह भी पता चला है कि कुछ लोग नीचे से तेल की बोतलें लेकर आये हैं, जो पूरी तरह से गलत है। ऐसे लोगों के खिलाफ कानून के मुताबिक मामला दर्ज किया जाएगा। ड्यूटी मजिस्ट्रेट के साथ पहुंची पुलिस ने धरने पर बैठे भर्ती अभ्यर्थियों के नाम-पते नोट किए।
इससे पहले मोबाइल टावर पर बैठीं हरदीप कौर ने कहा कि वह पंजाब पुलिस भर्ती-2016 की वेटिंग लिस्ट की अभ्यर्थी हैं, जो ज्वाइनिंग की मांग को लेकर 3 मार्च से मोबाइल टावर पर बैठी हैं। उन्होंने कहा कि वह बृहस्पतिवार तक इंतजार करेंगी क्योंकि उसका शरीर जवाब दे रहा है। इसके बाद वह कोई कार्रवाई करने के लिए मजबूर होंगी। धरने पर बैठे पुलिस भर्ती अभ्यर्थियों में से एक अमनदीप सिंह ने कहा कि वे लंबे समय से संघर्ष कर रहे हैं। मुख्यमंत्री को मांगों की जानकारी है। वे पंजाब के मुख्यमंत्री से मुलाकात की मांग कर रहे हैं लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। गौरतलब है कि 3 मार्च को दो अभ्यर्थी हरदीप कौर और अमनदीप कौर मोबाइल टावर पर चढ़ गई थीं, जिनमें से एक की तबीयत खराब होने के कारण उसे उतार लिया गया था।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×