For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

स्वास्थ्य मंत्री ने सिविल अस्पताल का किया औचक निरीक्षण, मिली खामियां

08:41 AM Jun 14, 2024 IST
स्वास्थ्य मंत्री ने सिविल अस्पताल का किया औचक निरीक्षण  मिली खामियां
करनाल में बृहस्पतिवार को डॉक्टरों से अस्पताल में व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी हासिल करते स्वास्थ्य मंत्री डॉ कमल गुप्ता। -हप्र
Advertisement

करनाल, 13 जून (हप्र)
लोकसभा चुनाव के बाद प्रदेश सरकार ने जमीन पर अपनी सक्रियता दिखानी शुरू कर दी है। इसी के चलते स्वास्थ्य एवं नागरिक उड्डयन मंत्री डॉ. कमल गुप्ता ने बृहस्पतिवार को सामान्य अस्पताल का औचक निरीक्षण किया, जिसमें उन्हें कई खामियां मिली। अस्पताल के हालात से नाराज स्वास्थ्य मंत्री ने सिविल सर्जन को एक सप्ताह के अंदर-अंदर रिपोर्ट सौंपने के आदेश दिए और कहा कि रिपोर्ट में जो भी दोषी पाया जाएगा, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी और जरूरत पड़ी तो लापरवाह अधिकारियों, कर्मचारियों को सस्पेंड करने से भी गुरेज नहीं किया जाएगा। मंत्री के औचक निरीक्षण से कर्मचारियों, अधिकारियों में हड़कंप मच गया।
निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य मंत्री ने सिविल अस्पताल के विभिन्न विभागों और फिर ट्रॉमा सेंटर का दौरा किया। उन्होंने ट्रॉमा सेंटर में मरीजों से बातचीत की और उनका कुशलक्षेम पूछा। इन मरीजों से बातचीत के बाद सामने आया कि कुछ मरीज ऐसे थे जिन्हें मेडिसन वार्ड में भर्ती किया जाना था, लेकिन इन मरीजों को ट्रॉमा सेंटर में दाखिल किया गया था। इस विषय को स्वास्थ्य मंत्री ने गंभीरता से लिया और मरीजों को जनरल वार्ड में शिफ्ट करने के आदेश भी दिए।
इस अवसर पर मंत्री ने मरीज किताबों से बातचीत की और स्वास्थ्य विभाग की ओर से उपलब्ध करवाई जा रही सुविधाओं के बारे में फीडबैक लिया। स्वास्थ्य मंत्री ने ट्रॉमा सेंटर का निरीक्षण करने से पहले सिविल अस्पताल के प्रांगण, कार्यालयों और अन्य वार्डों की सफाई व्यवस्था का आकलन किया। उन्होंने ट्रॉमा सेंटर के एक शौचालय की परिसर में उखड़ी टाइलों का कारण पूछा और उस पर नाराजगी जताई। इसके साथ ही पार्किंग की उचित व्यवस्था करने के  निर्देश दिए।

‘डॉक्टरों की कमी को जल्द किया जाएगा दूर’

स्वास्थ्य एवं नागरिक उड्डयन मंत्री डॉ. कमल गुप्ता ने सिविल अस्पताल के अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए कि अस्पताल की अनियमितताओं को लेकर एक रिपोर्ट तैयार की जाए। रिपोर्ट के आधार पर दोषी चिकित्सकों, अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। मंत्री ने कहा कि अस्पतालों में डॉक्टरों की कमी को पूरा करने के प्रयास किए जा रहे हैं। मौके पर भाजपा के जिलाध्यक्ष योगेंद्र राणा, पूर्व मेयर रेनू बाला गुप्ता, सीएमओ डॉ. कृष्ण कुमार, जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डॉ. सतपाल सहित अन्य मौजूद रहे।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
×