For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

बाउंसर मनीष की हत्या का आरोपी गैंगस्टर साथी सहित घायल

08:11 AM May 10, 2024 IST
बाउंसर मनीष की हत्या का आरोपी गैंगस्टर साथी सहित घायल
न्यू चंडीगढ़ में मुठभेड़ में घायल दो गैंगस्टर। -दैनिक ट्रिब्यून
Advertisement

मोहाली, 9 मई (हप्र )
न्यू चंडीगढ़ में सुनसान जगह पर बंबीहा गैंग के दो गैंगस्टरों की पुलिस से मुठभेड़ हो गई। दोनों गैंगस्टर लक्की पटियाल के लिए काम करते हैं। आरोप है कि इन दोनों गैंगस्टरों ने ही 7 मई को खरड़ के गांव चंदो में 27 वर्षीय बाउंसर व जिम ट्रेनर मनीष कुमार की गोलियां मारकर हत्या की थी। दोनों तरफ हुई क्रॉस फायरिंग में गैंगस्टर पुलिस की गोली लगने से घायल हुए हैं। बताया जा रहा है कि गैंगस्टरों ने पहले पुलिस पर तीन से चार फायर किए जवाबी फायरिंग में पुलिस को भी 6 से 7 राउंड फायर करने पड़े, जिनमें एक गैंगस्टर की टांग व दूसरे की कमर पर गोली लगी है। वारदात आज दोपहर की बताई जा रही है। घायल गैंगस्टरों की पहचान विक्रम राणा उर्फ हैप्पी निवासी त्यूड, किरण उर्फ धनवा निवासी खरड़ के रूप में हुई है। दोनों को इलाज के लिए फेज-6 सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। दोनों गैंगस्टरों के खिलाफ मुल्लांपुर थाने में इरादा कत्ल व आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। इससे पहले दोनों गैंगस्टरों के खिलाफ खरड़ थाने में हत्या का मामला भी दर्ज है। स्पेशल सेल की टीम को मौके से दो पिस्टल, एक जिंदा कारतूस व तीन चले हुए खोल बरामद हुए हैं।
मनीष के गांव का ही निकला हत्यारा
बाउंसर मनीष कुमार उर्फ मनी गांव त्यूड का रहने वाला था। आज मुठभेड़ में घायल हुआ विक्रम राणा उर्फ हैप्पी भी उसी के गांव त्यूड का रहने वाला है। दोनों के बीच कुछ समय पहले बहसबाजी हुई थी और दोनों आपसी रंजिश रखते थे। हैप्पी लक्की पटियाल गैंग के लिए काम करता था। लक्की पटियाल ही बंबीहा ग्रुप का मुख्य हैंडलर है। विक्रम राणा और किरण अब लक्की पटियाल के लिए काम कर रहे थे। बाउंसर मनीष व हैप्पी में पहले से दुश्मनी थी इसलिए उसने मनीष कुमार की हत्या लक्की पटियाल के कहने पर की। बंबीहा ग्रुप ने सोशल मीडिया पर बाउंसर मनीष की हत्या की जिम्मेवारी भी ली थी।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×