For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

अपहरण मामले में पूर्व एसपी को 10 साल कैद

07:52 AM Mar 31, 2024 IST
अपहरण मामले में पूर्व एसपी को 10 साल कैद
Advertisement

गौरव कंठवाल/ट्रिन्यू
मोहाली, 30 मार्च
सीबीआई की विशेष अदालत ने साल 1992 के अपहरण से जुड़े मामले में पूर्व एसपी (तत्कालीन एसएचओ) अमरजीत सिंह को दोषी ठहराते हुए 10 साल की सजा सुनाई है। उसे धारा 120 व 364 के तहत दोषी ठहराया गया है, साथ ही एक लाख रुपए का जुर्माना लगाया है।
जुर्माना न चुकाने की स्थिति में उसे एक साल और जेल में बिताना होगा। वहीं, इस मामले के एक आरोपी तत्कालीन डीएसपी अशोक कुमार की मौत हो गई थी। इस मामले में साल 1999 में चार्जशीट दाखिल की गई थी। इसके बाद आरोप लगाये गये मगर आरोपी की याचिका पर 2002 से 2022 तक मामले पर रोक लगी रही। बाद में याचिका खारिज कर दी गयी। सीबीआई के लोक अभियोजक जय हिंद और अनमोल नारंग ने बताया कि इस अवधि के दौरान कई गवाहों की मृत्यु हो गई। मोगा के 60 वर्षीय आरोपी अमरजीत सिंह हाल ही में एसपी पद से सेवानिवृत्त हुए हैं। पुलिस को संदेह है कि पीड़ित बलविंदर सिंह अपने गांव के रहने वाले एक आतंकवादी का परिचित था। पीड़ित के लापता होने के बाद से परिवार दावा करता आ रहा था कि उन्हें उसका मृत्यु प्रमाण पत्र भी नहीं मिला। उन्होंने बताया कि पीड़ित परिवार को मुआवजे के लिए मामला डीएलएसए को भी भेजा गया। सीबीआई के मुताबिक, 4 अक्तूबर, 1992 की सुबह पत्नी राजवंत कौर और उसकी सास गुरबचन कौर को डीएसपी और एसएचओ झबाल ने उठाया था। शाम को राजवंत को वापस गांव लाया गया लेकिन पति बलविंदर सिंह का भी अपहरण कर लिया गया। राजवंत, बलविंदर, उसकी मां गुरबचन कौर को थाने में रखा गया।
गुरबचन कौर को 4 दिन बाद छोड़ा गया जबकि राजवंत को 8 दिन बाद रिहा किया गया। उन्हें यह बताया गया कि बलविंदर को फिरोज़पुर ले जाया गया है। उसके बाद से उसकी कोई जानकारी नहीं मिली।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×