For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

पूर्व और वर्तमान सीएम मुकाबले के लिए हो जाएं तैयार : मराठा वीरेंद्र

08:30 AM Apr 20, 2024 IST
पूर्व और वर्तमान सीएम मुकाबले के लिए हो जाएं तैयार   मराठा वीरेंद्र
करनाल में शुक्रवार को एनसीपी (शरद पवार) के कार्यकर्ता प्रदेशाध्यक्ष मराठा वीरेंद्र वर्मा के साथ चुनावों की रणनीति बनाते हुए। -हप्र
Advertisement

करनाल, 19 अप्रैल (हप्र)
राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी शरद पवार ग्रुप (एनसीपी) मुख्यालय पर शुक्रवार को पार्टी की राज्य कार्यकारिणी की बैठक प्रदेशाध्यक्ष मराठा वीरेंद्र वर्मा की अध्यक्षता में हुई। प्रदेशाध्यक्ष व पार्टी के करनाल लोकसभा क्षेत्र से प्रत्याशी मराठा वीरेंद्र वर्मा ने कहा कि पूर्व सीएम मनोहर लाल द्वारा दिया गया बयान करनालवासियों की तौहीन हैं। उनके बयान से घमंड की बू आती है। प्रदेशाध्यक्ष मराठा वीरेंद्र वर्मा ने घमंडी भाजपा नेताओं को चैलेंज किया कि करनाल लोकसभा के वोटरों के सब्र के पैमाने की परीक्षा न लें। करनाल लोकसभा के वोटरो ने ऐसे घमंडी नेताओं की पीएचडी की डिग्री पहले भी फाड़ी हैं, अब भाजपा के दोनों पूर्व व वर्तमान मुख्यमंत्री मुकाबले के लिए तैयार हो जाएं। करनाल लोकसभा क्षेत्र की जनता ऐसे नेताओं को वोट की चोट से सबक सिखाने का काम करेगी।
बता दें कि भाजपा के प्रत्याशी पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के इस बयान को बहुत ही गंभीरता से लिया, जिसमें उन्होंने कहा कि उनके मुकाबले में इंडिया गठबंधन का कोई उम्मीदवार घोषित न होने के बगैर मुकाबले में मजा नहीं आ रहा है। मीटिंग में सर्वसम्मति से कहा कि प्रदेशाध्यक्ष मराठा वीरेंद्र वर्मा की अगुवाई में अब चुनाव प्रचार शुरू किया जाए। इस क्रम में करनाल शहर में शनिवार 20 अप्रैल को तीन कार्यकर्ताओं की सभाएं सैदपुरा, मंगल कॉलोनी व विकास नगर में मोहल्ला सभाए करके चुनाव प्रचार की शुरुआत की जाएगी।
मीटिंग में इंडिया गठबंधन के प्रत्याशी के तौर पर मराठा वीरेंद्र वर्मा मजबूत प्रत्याशी होंगे, जो भाजपा को हराने में सक्षम होंगे। एनसीपी ने पहले ही इस सीट पर अपनी दावेदारी पेश की हुई है, पिछले एक वर्ष से वे प्रचार में लगे हैं।
मीटिंग में पार्टी कार्यकर्ताओं ने करनाल की शान में-मराठा जी मैदान में, तानाशाही भगाओ- लोकशाही बचाओ के जोरदार नारों से प्रदेशाध्यक्ष का स्वागत किया। इस अवसर पर रिशिपाल पांचाल प्रदेश महासचिव, सुमेरचन्द पांचाल, राजेश देशवाल, रामकुमार वर्मा, अशोक शर्मा, राजेश कंबोज, रघुवन्त कश्यप, करतारा राम प्रजापत आदि ने भी अपने विचार रखें।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×