For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

संयुक्त किसान मोर्चा से जुड़े किसान संगठनों, खाप पंचायतों ने दिल्ली कूच से किया इनकार

07:27 AM Feb 12, 2024 IST
संयुक्त किसान मोर्चा से जुड़े किसान संगठनों  खाप पंचायतों ने दिल्ली कूच से किया इनकार
Advertisement

रोहतक, 11 फरवरी (हप्र)
ऑल इंडिया किसान खेत मजदूर संगठन, अखिल भारतीय किसान सभा सहित संयुक्त किसान मोर्चा से जुड़े किसान संगठनों व खाप पंचायतों ने 13 फरवरी को दिल्ली कूच से स्पष्ट इनकार किया है। उनका कहना है कि विरोध प्रदर्शन करने के कुछ किसान संगठनों के निर्णय का संयुक्त किसान मोर्चा से कोई लेना-देना नहीं है।
ऑल इंडिया किसान खेत मजदूर संगठन संगठन के प्रदेश अध्यक्ष अनूप सिंह मातनहेल ने बताया कि गत दिवस संयुक्त किसान मोर्चा हरियाणा ने एक आॅनलाइन बैठक कर हरियाणा प्रदेश के लोगों से एकजुट होकर 16 फरवरी 2024 को ग्रामीण भारत बंद और औद्योगिक हड़ताल को सफल बनाने की अपील की है। ऑल इंडिया किसान खेत मजदूर संगठन के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि उन संगठनों को देशव्यापी किसान आन्दोलन से किनारा कर अलग से कोई कार्रवाई नहीं करनी चाहिए। ‘एमएसपी’ जैसी महत्वपूर्ण व जरूरी मांग को इक्का-दुक्का संगठन ‘अपनी अपनी ढपली- अपना अपना राग’ की बचकानी कार्रवाई से कदापि हासिल नहीं कर सकता। उल्टे, इससे तो किसान आन्दोलन के विरोधियों और कोरपोरट-हितैषी सरकार की ही मंशा पूरी होगी।
वहीं, अखिल भारतीय किसान सभा के महासचिव सुमित दलाल ने कहा कि 13 फरवरी को दिल्ली कूच का आह‍्वान जो संगठन कर रहे हैं वह संयुक्त किसान मोर्चा से अलग हैं।

‘मार्च में खापों का हिस्सा नहीं’

रोहतक खाप 84 प्रधान हरदीप अहलावत, नांदल खाप प्रधान डॉक्टर सुरेश नांदल, सर्व खाप संयोजक चौधरी महेंद्र सिंह नांदल, हुड्डा खाप पूर्व प्रधान धर्मपाल हुड्डा सर्वखाप प्रवक्ता कैप्टन जगबीर मलिक, प्रतिनिधि राजवीर मलिक, देशवाल खाप प्रतिनिधि सुरेश देशवाल सहित कई खापों के प्रतिनिधियों ने एक बैठक कर निर्णय लिया कि किसी भी प्रकार के मार्च में खापों का हिस्सा नहीं रहेगा। रोहतक खाप चौरासी प्रधान ने स्पष्ट किया कि पूरे हरियाणा की खापों से बहुत जल्दी मिलकर इसके ऊपर कोई ठोस निर्णय लिया जाएगा। उससे पहले किसी भी प्रकार के मार्च में खापों का हिस्सा नहीं रहेगा। इससे पूर्व, खाप पंचायतों ने चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न प्रदान करने के लिए सरकार को साधुवाद देते हुए आभार जताया।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
×