For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

बॉलीवुड में नाम कमाने की चाहत

08:38 AM Mar 09, 2024 IST
बॉलीवुड में नाम कमाने की चाहत
Advertisement

सरोज वर्मा
अभिनेत्री कर्म कौर की पंजाबी व हिंदी में उनकी कई फिल्में प्रदर्शित हो चुकी हैं। वे मूलत: चंडीगढ़ से हैं। साल 2019 में आयी पंजाबी फ़िल्म ‘तेरी मेरी जोड़ी’ से उन्होंने फ़िल्मों में एंट्री की। उनसे हुई मुलाक़ात में हमने जाना उनकी अभिनय व लाइफ की जर्नी के बारे में। उनसे बातचीत के कुछ अंश :
अपने बारे में बताइये?
मेरा पूरा नाम करमजीत कौर है। मैं चंडीगढ़ से हूं व यहीं के स्कूल-कॉलेजों से मैंने अपनी पढ़ाई की है। फिल्मों में आते ही मुझे मेरा नाम करम कौर मिला। ये नाम मुझे मेरे पहले प्रोजेक्ट के दौरान डायरेक्टर ने दिया था। बाद में मैंने इसी नाम को अपनी पहचान बना लिया। मुझे बचपन से ही फ़िल्में देखने के साथ एक्टिंग का भी शौक था।
करम, आप अपनी फ़िल्मी जर्नी के बारे बताएं कि कैसे आना हुआ?
मैं स्कूल टाइम से ही परिवार के साथ फ़िल्में देखने जाती थी। असल में, सन्नी देओल की फिल्मों के प्रति मुझे बहुत क्रेज़ था। मैंने उनकी फ़िल्में देख कर ही फ़िल्म इंडस्ट्री में आने के बारे में सोचा था। फिर मैं जैसे-जैसे बड़ी हुई तो पढ़ाई के साथ-साथ मैंने एक्टिंग सीखनी भी शुरू कर दी। एक तरह से मैंने ठान लिया था कि खुद को एक अभिनेत्री के रूप में ही स्थापित करना है और अब वह सपना पूरा हो चुका है। हालांकि यूं कहूंगी कि अभी तो चलना शुरू किया है, सफर जारी है, मंज़िल अभी दूर है।
आपकी पहली फ़िल्म कौन सी थी जिसने आपको पहचान दिलाई ?
मेरी पहली पंजाबी फ़िल्म 2019 में आयी थी ‘तेरी मेरी जोड़ी’ जिसमें मैंने रानो का किरदार निभाया था। यह मेरा फेवरेट किरदार है क्योंकि शुरुआत में इसी से मुझे पहचान मिली। उसके बाद मैंने कई पंजाबी व हिंदी में कई फ़िल्में की जिनमें अज दे लफंगे, बापू चढ़ गया घोड़ी, दुविधा व हेटर्ज आदि आ चुकी हैं।
अपना आइडियल किसे मानती हैं आप?
सच कहूं तो मैं अपना आइडियल खुद को ही मानती हूं। बचपन से खुद को शीशे में देखती थी और कहती थी कि तुझे एक दिन अभिनेत्री बनना है। मैं किसी की तरह नहीं बनना चाहती हूं। बस जो हूं उसे कहीं बेहतर दिखाना है।
करम, आप शादीशुदा हैं और पंजाबी परिवार से हैं। इसके बावजूद आपको फ़िल्म इंडस्ट्री में आकर काम करने का मौका मिला। इसका श्रेय आप किसे देती हैं?
शादी के बाद फ़िल्म इंडस्ट्री में आने की इजाजत मिलना मेरे लिए बहुत बड़ी बात थी। इसका श्रेय मैं अपने पति परमजीत सिंह को देना चाहूंगी। असल में तो उनकी सपोर्ट के बिना मेरे लिए इस इंडस्ट्री में आना मुश्किल था। इसके अलावा, मेरे माता-पिता का भी मेरे इस फील्ड में आने में काफ़ी सहयोग रहा।
आपके लक्ष्य क्या है?
ज्यादा बड़े नहीं हैं। बस एक सपना है- खुद को पॉलीवुड के बाद बॉलीवुड में कामयाब अभिनेत्री के रूप में स्थापित करना। दर्शकों के दिलों में ऐसे ही जगह बनाती रहूं। ऐसे ही फैंस का प्यार मिलता रहा तो मेरा सपना जल्द पूरा होगा।
आपके सोशल मीडिया पर काफ़ी फैन्स हैं। उनसे कैसे कनेक्ट करती हैं?
फैन्स ही हमें पहचान दिलाते हैं। जब भी कोई नया प्रोजेक्ट आता है तो मैं लाइव आती हूं और सब फैंस के रू-ब-रू होती हूं। अपने वाले प्रोजेक्ट के बारे में बताती हूं और ज्यादा से ज्यादा कनेक्ट रहने की कोशिश करती हूं।
आपके शौक क्या-क्या हैं?
मुझे डांस के अलावा फोटोग्राफी करना बहुत पसंद है। वहीं कुछ हैप्पनिंग प्लेस देखना पसंद है। और हां, मैं ज़िम लवर भी हूं।
आपकी आने वाली फ़िल्में कौन-कौन सी हैं?
मेरी आने वाली फिल्में ‘सोच’, दूनकी, इकरूप हिंदी में हैं। वहीं अक्कड़ बक्कड़ बम्बे बो, रोड ऑफ़ लाइफ, नच बलिये आदि पंजाबी फ़िल्में हैं।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×