For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

उपायुक्त कार्यालय पर किया प्रदर्शन

10:51 AM Feb 13, 2024 IST
उपायुक्त कार्यालय पर किया प्रदर्शन
अम्बाला शहर में सोमवार को डीसी कार्यालय पर प्रदर्शन करके नोटिफिकेशन की प्रतियां जलाते हेमसा नेता। -हप्र
Advertisement

अम्बाला शहर, 12 फरवरी (हप्र)
आज के प्रदर्शन में हरियाणा मिनिस्टीरियल स्टाफ एसोसिएशन -हेमसा सम्बद्ध सर्व कर्मचारी संघ के आह्वान पर राज्य ऑडिटर राजेंद्र कुमार के नेतृत्व में लिपिक वर्ग के कर्मचारियों ने शिक्षा सदन से डीसी कार्यालय तक प्रदर्शन करते हुए वित्त विभाग द्वारा 8 फरवरी को जारी नोटिफिकेशन की प्रतियों को आग के हवाले किया। साथ ही भाजपा सरकार की कथित वायदा खिलाफी के विरोध में जमकर नारेबाजी की और 16 फरवरी को हरियाणा कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के आह्वान पर हड़ताल में भाग लेने की घाषणा की।
आंदोलनकारियों का कहना है कि लिपिक को 35400 मासिक वेतन से कम कुछ भी मंजूर नहीं है। कर्मचारियों ने सरकार द्वारा जारी 21700 रुपये की नोटिफिकेशन को जलाकर विरोध प्रकट किया। हमसा के पूर्व महासचिव सतीश सेठी ने कहा कि भाजपा सरकार मिनिस्टीरियल स्टाफ के साथ पिछले दस वर्ष से लगातार विश्वासघात करती आ रही है। अब भाजपा-जजपा सरकार ने लिपिक का वेतन 19900 से 21700 रुपये तो किया परंतु इसे आदेश जारी होने की तिथि से लागू किया है। उन्होंने कहा कि यह मिनिस्टीरियल स्टाफ के साथ भाजपा की सरकार व उसके परिवारिक संगठन बीएमएस तथा उसकी गोद में बैठी क्लेरिकल वेलफेयर एसोसिएशन ने मिलकर धोखा दिया है।
सेठी ने कहा कि भाजपा सरकार ने एक साजिश के तहत भारतीय मजदूर संघ (बीएमएस) को आगे करके लिपिक वर्ग की एकता को तोड़ने का प्रयास किया। वह लिपिक के कार्य समीक्षा के नाम पर कमेटी का गठन करने में कामयाब जरूर हो गई। कमेटी की रिपोर्ट का तो पता नहीं परंतु 8 फरवरी को जारी नोटिफिकेशन से सच्चाई सबके सामने है। हेमसा नेताओ ने कहा कि लिपिक के हकों के लिए 2012 से संघर्ष जारी है जो 35400 लागू होने तक जारी रहेगा। उन्होंने लिपिक वर्ग से निराशा छोड़कर 16 फरवरी को होने वाली हड़ताल में भाग लेकर भाजपा की सरकार को करारा जवाब देने को कहा। प्रदर्शन को एसकेएस नेता रवि चौहान, इंद्रसिंह बधाना, सेवाराम, महावीर पाई, वीरपाल के अलावा सुमित कुमार व रमेश जांगड़ा, शीशपाल सिंह, अशोक कुमार, संजीव कुमार इत्यादि ने भी सम्बोधित किया।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×