For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

आत्मरक्षा के लिए बेटियों को विशेष रूप से कराटे को सीखना चाहिए : नवीन गोयल

10:58 AM Apr 01, 2024 IST
आत्मरक्षा के लिए बेटियों को विशेष रूप से कराटे को सीखना चाहिए   नवीन गोयल
गुरुग्राम में रविवार को सेक्टर-10ए सामुदायिक केंद्र में कराटे चैंपियनशिप में बच्चों को सम्मानित करते नवीन गोयल। -हप्र
Advertisement

गुरुग्राम, 31 मार्च (हप्र)
व्यापार प्रकोष्ठ भाजपा हरियाणा के प्रदेश संयोजक नवीन गोयल ने रविवार को सेक्टर 10ए सामुदायिक सेंटर में आडीज चैलेंज कप कराटे चैंपियनशिप 2024 का शुभारंभ किया। नवीन गोयल ने कहा कि कराटे से बच्चे, खासकर बेटियां आत्म रक्षा सीखती हैं। जो बच्चा आत्मरक्षा सीखता है, वह जीवन के अंदर कहीं भी शोषण का शिकार नहीं होता। नवीन गोयल ने कहा कि समस्त कोच अधीर, पवन, ममता तंवर की टीम को बधाई देना चाहता हूं। कराटे प्रतियोगिता में भाग लेने वाले समस्त प्रतिभागियों के उज्ज्वल भविष्य की कामना करता हूँ। उन्होंने कराटे एक्सपर्ट के मुताबिक कहा कि 5 से 6 साल की उम्र कराटे ट्रेनिंग शुरू करने के लिए बिल्कुल सही होती है। इसे वह उम्र माना जाता है जब इनसान का दिमाग निर्देशों और सिद्धांतों को समझने के लिए संवेदनशील होता है। अगर कोई व्यक्ति पांच या छह साल की उम्र में कराटे की ट्रेनिंग शुरू करता है तो यह उसके स्वभाव में शामिल हो जाता है। इसे युवावस्था में विकसित करना बहुत कठिन है। किसी बच्चे को यह सिखाना निश्चित रूप से बहुत आसान है।
उन्होंने उन अभिभावकों का आभार जताया, जिन्होंने बच्चों को छोटी उम्र से ही खेलों के प्रति आगे बढ़ाया है। यह जरूरी नहीं कि खेलों में सिर्फ भविष्य ही बनाना है। खेल हमारी शारीरिक तंदुरुस्ती के लिए भी जरूरी होते हैं। इस अवसर पर आरडब्ल्यूए सेक्टर 10ए के प्रधान सतीश गुप्ता, नरेश गोयल समाजसेवी, सतीश ग्रोवर आदि समाजसेवी उपस्थित रहे।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×