For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

पांच एजेंसियों के खिलाफ निगम ने लगाया 10 करोड़ जुर्माना

07:51 AM Mar 16, 2024 IST
पांच एजेंसियों के खिलाफ निगम ने लगाया 10 करोड़ जुर्माना
Advertisement

गुरुग्राम, 15 मार्च (हप्र)
गुरुग्राम शहर को स्वच्छ बनाने में नगर निगम अधिकारी अब सख्त होते नजर आ रहे हैं। शहर में कचरे का निस्तारण करने में लापरवाही बरतने वाली पांच एजेंसियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। निगम ने पांच एजेंसियों पर 10 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है। नगर निगम कमिश्नर डॉ. नरहरि सिंह बांगड़ की मानें तो जुर्माना लगाने से पहले एजेंसियों को कार्यशैली सुधारने के लिए नोटिस भी दिया गया था।
निगम कमिश्नर के मुताबिक, निस्तारित कचरे का सही प्रकार से निपटान नहीं करने पर इन सभी एजेंसियों के खातों को फ्रीज करवा दिया गया है जिसमें मौजूद करीब साढ़े 28 करोड़ रुपए जब्त किए गए हैं। निगमायुक्त का कहना है कि उनके खिलाफ केस दर्ज करवाया जा रहा है। एनजीटी की फटकार के बाद निगमायुक्त ने निजी एजेंसी के खिलाफ यह कार्रवाई की है।
बंधवाड़ी प्लांट में बने कूड़े के पहाड़ों के निस्तारण को लेकर एक मामला एनजीटी में विचाराधीन है। निगम ने एनजीटी को एफिडेविट दिया है कि वह जून 2024 में बंधवाड़ी प्लांट में पुराने कचरे का निस्तारण कर देगी। इसको लेकर पांच एजेंसियों को काम दिया गया है। तीन एजेंसियों के कार्य को बढ़ाने के लिए मुख्यालय को पत्र भेजा हुआ है। निगम ने यह भी दावा किया था कि बंधवाड़ी प्लांट में रोजाना 16 हजार टन कचरे का रोजाना निस्तारण कर रहे हैं, लेकिन हकीकत में इन एजेंसियों द्वारा 10 हजार टन कचरे का निस्तारण भी नहीं किया जा रहा।
अधिकारियों ने बताया कि एजेंसियों द्वारा की जा रही लापरवाही पर नजर रखने के लिए प्लांट में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं जिसके जरिए 24 घंटे निगरानी की जा रही है। जीएमडीए के कमांड एंड कंट्रोल सेंटर के जरिए यहां निगरानी की जा रही है। वहीं, चार जेई की ड्यूटी बंधवाड़ी कचरा निस्तारण प्लांट में लगाई गई है। अगर कोई एजेंसी अब कार्य में लापरवाही बरतती है तो उसकी रिपोर्ट जेई द्वारा एसडीओ के माध्यम से स्वच्छ भारत मिशन को दी जाएगी।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×