For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

सराहनीय पहल : पीजीआई में भीड़ को व्यवस्थित करेंगे 'सारथी'

07:39 PM May 13, 2024 IST
सराहनीय पहल   पीजीआई में भीड़ को व्यवस्थित करेंगे  सारथी
पीजीआई चंडीगढ़ में स्वयंसेवकों को प्रशस्ति पत्र देते डायरेक्टर डॉ. विवेक लाल। साथ है चिकित्सा अधीक्षक प्रो. विपिन कौशल, डिप्टी डायरेक्टर (प्रशासन) पंकज राय। -ट्रिब्यून फोटो
Advertisement

विवेक शर्मा/ट्रिन्यू
चंडीगढ़, 13 मई
पीजीआई में सुबह से ही हजारों मरीजों कर भीड़ जुटनी शुरू हो जाती है। कभी-कभी तो इतनी भीड़ हो जाती है कि लोगों को संभालना मुश्किल हो जाता है। इसी के चलते पीजीआई ने प्रोजेक्ट सारथी लॉंच किया है। प्रोजेक्ट के तहत पीजीआई में एनएसएस स्वयंसेवकों की तैनाती की जाएगी, जो भीड़ को व्यवस्थित कर सकें। पीजीआई ने सोमवार को राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) के साथ साझेदारी की है। पीजीआई की इस पहल से मरीजों की परेशानी कम होगी। पीजीआई के डायरेक्टर डॉ. विवेक लाल ने बताया कि पीजीआई में हर साल 30 लाख मरीजों का इलाज किया जाता है। मरीजों के साथ उनके तीमारदार भी होते हैं, ऐसे में पीजीआई में रोजाना हजारों लोग जुटते हैं। उन्होंने बताया कि एनएसएस के मोर्चा संभालने से बढ़ती चुनौतियों पर काबू पाया जा सकेगा।
प्रोफेसर विवेक लाल ने बताया कि पीजीआई के डिप्टी डायरेक्टर (प्रशासन) पंकज राय का यह आइडिया था। उन्होंने अमेरिका के एक अस्पताल में ऐसी व्यवस्था देखी थी। डिप्टी डायरेक्टर पंकज राय ने बताया कि सारथी प्रोजेक्ट के लिए सरकारी पॉलीटेक्निक कॉलेज से 22 स्वयंसवेकों का चयन किया गया है। इन्हें सात दिन की ट्रेनिंग दी जाएगी। प्रोजेक्ट के सफल होने पर पूर्व सैनिकों, वरिष्ठ नागरिकों और अन्य स्वयंसेवकों को भी इसमें शामिल किया जाएगा।
चिकित्सा अधीक्षक प्रो. विपिन कौशल ने छात्रों को उनके उत्साह के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि एनएसएस के मोर्चा संभालने के बाद अस्पताल में भीड़ को कंट्रोल करना आसान हो जाएगा। गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक कॉलेज फॉर वुमेन, सेक्टर-10 की एनएसएस की नोडल अधिकारी मधु मान ने कहा कि एनएसएस के आदर्श वाक्य 'नॉट मी, बट यू' के अनुरूप, छात्रों को अमूल्य वास्तविक जीवन का अनुभव प्राप्त होगा। पीजीआईएमईआर में उनकी भागीदारी के माध्यम से, इस प्रत्यक्ष अनुभव से बेहतर कोई शिक्षा और सामाजिक जिम्मेदारी नहीं है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×