For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

भाजपा प्रत्याशी रणजीत सिंह का ऑडियो वायरल

08:48 AM Jun 11, 2024 IST
भाजपा प्रत्याशी रणजीत सिंह का ऑडियो वायरल
Advertisement

कुमार मुकेश/हप्र
हिसार, 10 जून
हिसार संसदीय सीट से भाजपा प्रत्याशी, बिजली मंत्री रणजीत चौटाला का सोमवार को एक ऑडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। करीब एक मिनट 24 सैकेंड के इस ऑडियो में रणजीत सिंह अपनी हार के लिए भाजपा के दिग्गजों को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। दैनिक ट्रिब्यून समाचार पत्र इस वायरल ऑडियो की पुष्टि नहीं करता।
इस ऑडियो में रणजीत चौटाला हिसार निवासी एक कार्यकर्ता बलजीत सिंह से फोन पर बात कर रहे हैं और यह फोन रणजीत सिंह ने ही बलजीत सिंह को किया था। चुनाव में हारने के बाद बलजीत सिंह ने रणजीत चौटाला को मैसेज किया था। मैसेज पढ़ने के बाद रणजीत चौटाला ने बलजीत को फोन मिलाया और भाजपा नेताओं पर किसी और के लिए बैटिंग करने का आरोप लगाया। इस ऑडियो में रणजीत सिंह ने चुनाव हारने के पीछे पूर्व सांसद कुलदीप बिश्नोई, कुलदीप बिश्नोई के समर्थक रणधीर पनिहार, पूर्व वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु और राज्यसभा सदस्य सुभाष बराला का नाम लेकर भितरघात करने का आरोप लगाया। इतना ही नहीं फोन पर यहां तक कहा कि इनकी खिंचाई करेंगे, चिंता मत करो, मैं इनको माफ नहीं करता। इस मामले के बारे में कुलदीप बिश्नोई, कैप्टन अभिमन्यु और सुभाष बराला के मोबाइल पर संपर्क कर उनकी प्रतिक्रिया लेने का प्रयास किया लेकिन किसी ने इस मुद्दे पर बात करने से मनाकर दिया तो किसी ने बात ही नहीं की।

‘वायरल ऑडियो मेरा नहीं, जयचंदों के नाम पार्टी को दिए’

अग्रसैन भवन में सोमवार शाम को कार्यकर्ताओं की बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए बिजली मंत्री रणजीत सिंह ने वायरल ऑडियो के बारे में कहा कि ऑडियो तो कोई किसी की भी बनाकर वायरल कर देता है, वायरल ऑडियो रिकॉर्डिंग उनकी नहीं है। भितरघात के सवाल पर बिजली मंत्री ने कहा कि उन्होंने जयचंदों का जिक्र किया है और जयचंदों के नाम इनवर्टेड कोमा में लिखकर पार्टी को दे दिए हैं। जब उनसे पूछा कि कुलदीप बिश्नोई, सुभाष बराला व कैप्टन अभिमन्यु ने आपका कितना साथ दिया तो कहा कि इस बारे में वे यहां कोई बात नहीं करेंगे। जब उनसे पूछा कि तीनों में से कोई भी आपकी बैठक में नहीं आए हैं तो उन्होंने कहा कि जिनको सूचना मिल गई, वे आ गए। उन्होंने कहा कि विधायक विनोद भ्याणा, मंत्री डॉ. कमल गुप्ता ने उनका साथ दिया और वे बैठक में भी आए। साथ ही कहा कि जिन्होंने मदद की है, वो मेरे साथ बैठे हैं। आखिर में उन्होंने कहा कि अब वे रानिया से विधानसभा चुनाव लड़ेंगे और इसकी तैयारी शुरू कर दी है।

Advertisement

वारयल ऑडियो में बातचीत के अंश

रणजीत चौटाला : मैं चौधरी रणजीत सिंह बोल रहा हूं।
बलजीत सिंह : हंजी नमस्कार जी।
रणजीत चौटाला : हां, मैंने आपका नंबर देखा मैसेज डाला हुआ था। इसलिए फोन कर दिया।
बलजीत सिंह : ठीक है सर
रणजीत सिंह : उस दिन 10 तारीख को मिलेंगे। कोई भी नहीं होगा क्या, ये अपने गंदे अपने अंदर ही कर गए।
बलजीत सिंह : क्या करें जी बड़े दुख की बात है जी।
रणजीत सिंह : ये सारा, कुलदीप भी था, पनिहार भी था
बलजीत सिंह : जी बड़ा दुख हुआ। हम तो घर से बाहर भी नहीं निकले अब तक।
रणजीत सिंह : ये कैप्टन अभिमन्यु, बराला ने जो नाश किया है ना।
बलजीत सिंह : हां बिल्कुल जी बिल्कुल।
रणजीत सिंह : खिंचाई करेंगे, चिंता मत करो, माफ नहीं करता।
बलजीत सिंह : बिल्कुल जी, यह तो सभी ने गद्दारी की है हमारे साथ।
रणजीत सिंह : मिलते हैं 10 तारीख को शाम 4 बजे।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×