For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

128 खिलाड़ियों ने की भागीदारी, कबड्डी में बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

09:15 AM Mar 25, 2024 IST
128 खिलाड़ियों ने की भागीदारी  कबड्डी में बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड
पंचकूला में रविवार को गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने के लिए कबड्डी खेलते खिलाड़ी । - दैनिक ट्रिब्यून
Advertisement

पंचकूला, 24 मार्च (हप्र)
विश्व कबड्डी दिवस के अवसर पर आज भारत ने 128 खिलाड़ियों की भागीदारी के साथ गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाकर एक नया इतिहास रचा। कबड्डी खेल के क्षेत्र में यह नया अध्याय पंचकूला के ताऊ देवीलाल स्टेडियम में लिखा गया। इस अवसर पर हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की। गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने का प्रयास प्रात: 11 बजे गिनीज टीम के निर्णायकों की उपस्थिति में आरंभ हुआ और तीन घंटे के लगातार खेल के बाद, दोपहर 2 बजे 128 खिलाड़ियों की भागीदारी के साथ पूरा हुआ। गिनीज निर्णायक स्वप्निल डांगरीकर ने इसकी घोषणा की। विश्व कबड्डी दिवस समारोह का लक्ष्य इस वर्ष एक अनोखा आयोजन करना था, जिसके तहत कबड्डी प्रदर्शनी मैच में सर्वाधिक खिलाड़ियोे के लिए गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने का प्रयास था। गिनीज ने रिकॉर्ड तोड़ने के लिए 84 खिलाड़ियों के लिए बेंचमार्क निर्धारित किया था, जबकि आयोजकों ने 154 खिलाडुियों के साथ नया रिकॉर्ड बनाने की चुनौती दी थी। हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय को गिनीज टीम द्वारा गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड प्रमाणपत्र प्रदान किया गया। इसके उपरांत राज्यपाल ने हॉलिस्टिक इंटरनेशनल प्रवासी स्पोर्ट्स एसोसिएशन की अध्यक्षा श्रीमती कांथी डी सुरेश और विश्व कबड्डी के अध्यक्ष अशोक
दास को प्रतिष्ठित प्रमाण पत्र सौंपा गया। ताऊ देवीलाल स्टेडियम में उत्साह से भरी टीम अर्जुन और टीम अभिमन्यु ने संयुक्त रूप से इस विश्व रिकॉर्ड को तोड़ा।

बड़े ध्यान से देखते हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय । - दैनिक ट्रिब्यून

हर साल 24 मार्च को विश्व कबड्डी दिवस

विश्व कबड्डी दिवस वर्ष 2019 से हर साल 24 मार्च को मनाया जाता है। इस वर्ष विश्व कबड्डी दिवस भारत में मनाया गया और इसके लिए ताऊ देवी लाल स्टेडियम पंचकूला का चयन किया गया। हिपसा द्वारा विश्व कबड्डी के साथ मिलकर इस वर्ष का आयोजन संयुक्त रूप से किया गया। भारत और विशेष रूप से हरियाणा को इस आयोजन के लिए चुनने का एक मुख्य कारण विश्व स्तर पर कबड्डी को बढ़ावा देना था। कार्यक्रम में विश्व कबड्डी के विभिन्न सदस्य देशों से आये विदेशी प्रतिनिधियों ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई। इस कार्यक्रम में हरियाणा मानव संसाधन विभाग के प्रधान सचिव डॉ. डी सुरेश भी उपस्थित रहे। हिपसा की अध्यक्ष कांथी डी सुरेश ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि यह सभी के लिए गर्व का क्षण है। इस अवसर पर सचिव विश्व कबड्डी एसटी अरासू, उपायुक्त सुशील सारवान, पुलिस उपायुक्त हिमाद्रि कौशिक, एसडीएम गौरव चैहान, सीईओ जिला परिषद गगनदीप सिंह, नायब तहसीलदार हरदेव सिंह और अन्य गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
×