For the best experience, open
https://m.dainiktribuneonline.com
on your mobile browser.

इनेलो नेता के घर से 5 करोड़ रुपये बरामद

09:23 AM Jan 06, 2024 IST
इनेलो नेता के घर से 5 करोड़ रुपये बरामद
करनाल में भाजपा नेता मनोज वधवा के निवास का बाहर पसरा सन्नाटा। -हप्र
Advertisement

यमुनानगर/करनाल/सोनीपत, 5 जनवरी (हप्र)
यमुनानगर में इनेलो नेता दिलबाग सिंह व उनके सहयोगी और करनाल में भाजपा नेता मनोज वधवा व सोनीपत में कांग्रेस विधायक सुरेंद्र पंवार के ठिकानों पर दूसरे दिन शुक्रवार को भी ईडी के छापे जारी रहे। सूत्रों के अनुसार, दिलबाग सिंह के ठिकानों पर छापे के दौरान अवैध विदेशी हथियार, 100 से अधिक शराब की बोतलें और 5 करोड़ रुपये नकद और देश और विदेश में कई संपत्तियों के कागजात बरामद किए गए हैं।
दिलबाग इनेलो नेता अभय चौटाला के समधी हैं। वह 2009 में इनेलो के टिकट पर विधायक रह चुके हैं। वर्ष 2014 और 2019 में भी उन्होंने चुनाव लड़ा था। पिछले चुनाव में वह मात्र 1400 वोटों से पराजित हुए थे। इस दौरान उन्होंने अपनी संपत्ति करीब 34 करोड़ रुपये घाेषित की थी। दो दिनों से दिलबाग सिंह के कार्यालय, निवास एवं अन्य स्थानों पर ईडी की ओर से रेड की जा रही है।
उधर, करनाल में भाजपा नेता मनोज वधवा के सेक्टर 13, 32 स्थित मकानों पर ईडी की टीमों ने दूसरे दिन भी छापेमारी की। इस दौरान न तो किसी को अंदर जाने दिया जा रहा है ओर न ही किसी को बाहर आने दिया गया।
वधवा के निवास पर ईडी की टीमों ने बृहस्पतिवार सुबह करीब 5.30 बजे छापेमारी शुरू की थी, जो देर रात करीब 2.30 बजे तक चलती रही। ईडी अधिकारियों ने व्यापार के लेन-देन के संबंध में दस्तावेजों को खंगाला। यह स्पष्ट नहीं हो पाया कि टीमों को क्या बरामद हुआ। सेक्टर-13 निवास पर टीम छापेमारी कर रही थी कि देर रात करीब 11 बजे ईडी की दूसरी टीम ने सेक्टर 32 स्थित वधवा निवास पर छापेमारी की, जो शुक्रवार भी जारी रही। सेक्टर 32 में करीब 5 गाड़ियों में ईडी अधिकारी पहुंचे। वे घर में कागजातों और लेनदेन संबंधित जांच कर रहे हैं। वधवा निवास के बाहर पुलिस कर्मचारी मौजूद हैं। बता दें कि मनोज वधवा के भाजपा ज्वाइन करने से पहले इनेलो से संबंध था। इसके बाद उन्होंने करनाल महापौर का चुनाव लड़ा और कांटे के मुकाबले में हार गए। उसके बाद मनोज वधवा ने भाजपा ज्वाइन कर ली थी।
इसके अलावा, सोनीपत से कांग्रेस विधायक सुरेंद्र पंवार के सेक्टर-15 स्थित आवास पर ईडी की टीम की जांच दूसरे दिन भी जारी रही। बताया जा रहा है कि दोपहर को टीम वापस लौटने की तैयारी में थी, लेकिन दूसरे स्थान पर जांच कर रही टीम द्वारा दिए गये
इनपुट के आधार पर फिर से जांच में लग गयी।
ईडी की कार्रवाई के बीच सुबह से ही विधायक आवास के बाहर उनके शुभचिंतकों व कार्यकर्ताओं की आवाजाही लगी रही। लेकिन सुरक्षा कर्मियों ने किसी को भीतर जाने की इजाजत नहीं दी। विधायक के समर्थक एक-दूसरे को फोन कर यह जानने में लगे रहे कि टीम कब लौट रही है। खनन मामले में जांच कर रही ईडी की टीम बृहस्पतिवार को सोनीपत में कांग्रेस विधायक सुरेंद्र पंवार के आवास पर टीम पहुंची थीं। टीम ने बृहस्पतिवार रात तक रिकॉर्ड जांचा। शुक्रवार सुबह टीम फिर जांच में जुट गयी। कुछ दस्तावेज की फोटो कॉपी कराने के लिए मशीन का इंतजाम किया गया। शुक्रवार देर रात तक भी जांच जारी थी। विधायक एक करीबी ने बताया कि जांच में टीम को कुछ भी संदेहास्पद नहीं मिला। विधायक की फर्म के पूर्ववर्ती साझेदारों द्वारा बरती गयी अनियमिताओं के कारण यह जांच हो रही है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
×